शिक्षा

Bihar School Education News : सरकारी स्कूलों में 5 दिन पढ़ाई, शनिवार को नो बैग डे मतलब फुल मस्ती

Janjwar Desk
11 Nov 2022 10:20 AM GMT
Bihar School Education News : सरकारी स्कूलों में 5 दिन पढ़ाई, शनिवार को नो बैग डे मतलब फुल मस्ती
x

Bihar School Education News : सरकारी स्कूलों में 5 दिन पढ़ाई, शनिवार को नो बैग डे मतलब फुल मस्ती

Bihar School Education News : ​बिहार के सरकारी स्कूलों में सिर्फ पांच दिन ही पढ़ाई होगी। अंतिम दिन यानि शनिवार को नो बैग डे होगा।

Bihar School Education News : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) के एक ऐलान से बिहार के छात्रों में खुशी की लहर है। दरअसल, सीएम ने इस बात की घोषणा की है कि ​अब बिहार के सरकारी स्कूलों में सिर्फ पांच दिन ही पढ़ाई होगी। अंतिम दिन यानि शनिवार को नो बैग डे होगा। कहने का मतलब है कि एक दिन बच्चे पढ़ाई के बदले मस्ती करेंगे।सीएम नीतीश कुमार के ऐलान के मुताबिक सरकारी स्कूल के छात्रों को अब सोमवार से शुक्रवार तक बैग लेकर जाना होगा। शनिवार को बच्‍चे बिना किताबों के स्कूल आएंगे। अब सप्ताह में एक दिन नो बैग डे (No Bag Day) होगा।

11 नवंबर को पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित शिक्षा दिवस 2022 समारोह में शामिल लोगों को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि सबसे पहले बिहार से मौलाना अबुल कलाम आजाद की जयंती को शिक्षा दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत हुई थी। उसके बाद हमने केंद्र सरकार से आग्रह किया था कि आजाद की जयंती को देशभर में शिक्षा दिवस के रूप में मनाया जाए। तत्कालीन मानव संसाधन मंत्री अर्जुन सिंह ने बात मानी और 2008 से देश भर में मौलाना अबुल कलाम आजाद के जन्मदिवस पर शिक्षा दिवस मनाया जाने लगा।

उसके बाद 2008 से पूरे देश में आज की तारीख को शिक्षा दिवस के रूप में मनाई जाती है। इस दौरान बिहार के वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी और शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर भी कार्यक्रम में मौजूद थे।

सीएम नीतीश कुमार के बोलने से पहले बिहार के राज्यपाल फागू चौहान और सीएम नीतीश कुमार ने मौलाना आजाद की तस्‍वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर सीएम नीतीश कुमार ने एक एप भी लांच किया। इसके साथ ही पुस्‍तक का विमोचन भी किया गया। इसी समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्कूलों में शनिवार को नो बैग योजना का शुभारंभ भी किया। मुख्यमंत्री ने स्वच्छ विद्यालय पोर्टल का भी शुभारंभ किया।

Bihar School Education News : सीएम नीतीश कुमार ने बच्चों को पोशाक एवं किताब के लिए भेजी जाने वाली राशि उनके अकाउंट में भेजी। साथ ही विद्यालय निरीक्षण एप का भी शुभारंभ किया। बताया गया कि इस वर्ष किसी को शिक्षा विभाग की ओर से मौलाना अबुल कलाम शिक्षा पुरस्कार नहीं दिया जाएगा। शिक्षा विभाग ने इसके लिए आवेदन मांगा था, लेकिन एक भी आवेदन मानकों पर खरा नहीं पाया। शिक्षा दिवस पर श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित मौलाना अबुल कलाम से जुड़ी किताबों के विभिन्न स्टॉलों का नीतीश कुमार ने निरीक्षण भी किया।

Next Story

विविध