Top
शिक्षा

कोरोना के बीच एएमयू प्रशासन ने की फीस में 54 फीसदी तक की बढ़ोत्तरी, ज्यादातर छात्र फीस भरने में असमर्थ

Janjwar Desk
18 Sep 2020 12:24 PM GMT
कोरोना के बीच एएमयू प्रशासन ने की फीस में 54 फीसदी तक की बढ़ोत्तरी, ज्यादातर छात्र फीस भरने में असमर्थ
x
छात्र बोले कोरोनावायरस महामारी के कारण हममें से कई घर नहीं जा सके, ऐसे माहौल में विश्वविद्यालय प्रशासन बिना किसी कारण के फीस में बढ़ोत्तरी कर रहा है, हम छात्रों ने यहां केवल फीस कम होने की वजह से दाखिला लिया है....

अलीगढ़। विदेशी छात्रों के लिए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में प्रवेश लेना अब महंगा हो गया है, क्योंकि अगले शैक्षणिक सत्र में इनके सभी पाठ्यक्रम शुल्क में 6 से 54 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में लगभग 800 छात्र पढ़ते हैं।

इंटरनेशनल स्टूडेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष ए. उर्जा ने कहा, "फीस में बढ़ोत्तरी बिना किसी कारण के की जा रही है, इनमें से अधिकतर छात्र शुल्क अदा करने में असमर्थ हैं।"

उन्होंने कहा, कोरोनावायरस महामारी के कारण हममें से कई छात्र घर नहीं जा सके। ऐसे माहौल में विश्वविद्यालय प्रशासन बिना किसी कारण के फीस में बढ़ोत्तरी कर रहा है। हम छात्रों ने यहां केवल फीस कम होने की वजह से दाखिला लिया है। विश्वविद्यालय को अपने निर्णय पर पुनर्विचार करना चाहिए।'

विदेशी छात्रों का एप्लीकेशन फीस 70 डॉलर से बढ़कर 100 डालर हो गई है। बीटेक के छात्रों का फीस 2600 डॉलर से बढ़कर 4000 डॉलर हो गई।

एएमयू के परीक्षा नियंत्रक मुजीब उल्लाह जुबरी ने पत्रकारों को बताया कि विदेशी छात्रों की फीस वृद्धि एक दशक से अधिक समय के बाद की गई है।

उन्होंने कहा कि फीस में बढ़ोत्तरी के बाद यह जामिया मीलिया इस्लामिया और जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय से कम है।

Next Story

विविध

Share it