शिक्षा

Haryana News : गालियां देने का मामला : आरोपी प्रोफेसर के निलंबन की मांग पर अड़ीं छात्राएं

Janjwar Desk
22 Sep 2021 11:25 AM GMT
Haryana News : गालियां देने का मामला : आरोपी प्रोफेसर के निलंबन की मांग पर अड़ीं छात्राएं
x

(कॉलेज परिसर में प्रदर्शन करती मेडिकल छात्राएं)

Haryana News : आरोपी प्रोफेसर 16 सितंबर की सुबह एमबीबीएस की 2019 बैच की छात्राओं की कक्षाएं लेने गए थे, इसी दौरान उन्होंने गाली-गलौच की....

Haryana News जनज्वार। हरियाणा के गोहाना (Gohana) के गांव खानपुर कलां स्थित बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कॉलेज (Bhagat Phool Singh Govt Medical College) में माइक्रोबायोलॉजी विभाग (Dept. Of Microbiology) के प्रोफेसर द्वारा एमबीबीएस (MBBS) की छात्राओं को कथित अश्लील गालियां देने का मामला गर्माता जा रहा है। छात्राएं आरोपित प्रोफेसर के निलंबन की मांग पर अड़ी हुई हैं। छात्राओं ने मंगलवार 21 सितंबर को कॉलेज के बाहर इकट्ठा होकर प्रदर्शन किया। दिल्ली स्थित लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के बाद हरियाणा के गोहाना का बीपीएस महिला मेडिकल कॉलेज है जिसमें आधे पुरुष हैं और आधी महिलाएं हैं।

मेडिकल कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी के एक प्रोफेसर (Accused Professor) 16 सितंबर की सुबह (9-10 बजे) एमबीबीएस की 2019 बैच की छात्राओं की कक्षाएं लेने गए थे। छात्राओं का आरोप है कि इसी दौरान उन्होंने गालियां दीं। इस घटना का वीडियो व ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। छात्राओं ने अधिकारियों को शिकायत भी दी थी। कॉलेज प्रशासन ने जांच के लिए कमिटी गठित की गई। इस कमिटी में चेयरमैन डॉ. एमके गर्ग, सदस्य डॉ. आनंद अग्राल, डॉ. अनुराधा टंडन, डॉ. सुरेंद्र और डॉ. स्वर्ण कौर शामिल थीं।

आरोपी प्रोफेसर ने कमिटी के सामने अपनी गलती मानने के साथ ही माफी मांगी है। इस पर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने कमिटी की रिपोर्ट के अनुसार उन्हें फिलहाल छुट्टी पर भेज दिया है। वहीं छात्राओं ने आरोपी प्रोफेसर के निलंबन के लिए हड़ताल शुरु कर दी है।

महिला मेडिकल कॉलेज के निदेशक डॉ. राजीव महेंद्रु ने इस मामले को लेकर कहा कि मेडिकल कॉलेज प्रशासन (Medical College Administration) द्वारा मामले को लेकर अपने स्तर पर कार्रवाई की गई है। अब उन पर आगाम कार्रवाई मुख्यालय की ओर से ही की जानी है। मामले की जांच के लिए गठित कमिटी द्वारा उनसे मुलाकात की जा रही है।


बीपीएस गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज की प्रदर्शनकारी छात्राओं का नेतृत्व कर रहीं रितु अंतिल ने बताया कि हरियाणा सरकार (Govt Of Haryana) के चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान मंत्री अनिल विज (Anil VIj) से भी मुलाकात की है और आरोपी प्रोफेसर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने आश्वासन दिलाया है कि निदेशक को आदेश दे दिए गए हैं और हमारे साथ न्याय होगा। हालांकि घटना के दिन 16 सितंबर से अबतक छह दिन बीत चुके हैं, कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। दोषी प्रोफेसर को सिर्फ सप्ताह भर की छुट्टी दी गई है। आखिर यह कैसा न्याय है।

सोशल मीडिया पर भी इस घटना को लेकर चर्चा हो रही है। अनिल कुमार सिंह नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा- 'बीपीएस महिला मेडिकल कॉलेज हरियाणा में हुई शर्मनाक घटना, प्रो. मौखिक रूप से 120 लड़कियों की एक कक्षा को परेशान किया और उन्हें परिसर के बाहर मिलने की धमकी दी। घटना की रिकॉर्डिंग परेशान करने वाली है और छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कार्रवाई की आवश्यकता है।'

गर्वित भिरानी नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा- 'बीपीएस कॉलेज के छात्रों ने छात्रों को गाली देने और धमकाने के आरोप में प्रोफेसर के खिलाफ धरना जारी है। हरियाणा के खानपुर में बीपीएस कॉलेज समय पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा है? महिलाओं के लिए तीसरा सरकारी मेडिकल कॉलेज होने के नाते क्या इसे अपने छात्रों की परवाह नहीं है?'

अभिनव कौशिक नाम के यूजर ने महिला आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा और पुलिस अधिकारियों को टैग करते हुए लिखा- 'सर कृपया बीपीएस मेडिकल कॉलेज सोनीपत की लड़कियों को मदद प्रदान करें, छात्रों को कक्षा में प्रोफेसर द्वारा परेशान किया गया और उन्हें बाहर मिलने की धमकी दी गई। छात्राएं डरी हुई हैं और सिस्टम से मदद की ज़रूरत है। कृपया एक नज़र डालें और वहां पढ़ने वाली हमारी बहनों की सुरक्षा सुनिश्चित करें।'


Next Story

विविध

Share it