शिक्षा

बिहार में इंटरमीडिएट परीक्षा फॉर्म के लिए ज्यादा शुल्क लेने पर भड़के छात्र, किया हंगामा

Janjwar Desk
21 Aug 2020 4:36 PM GMT
बिहार में इंटरमीडिएट परीक्षा फॉर्म के लिए ज्यादा शुल्क लेने पर भड़के छात्र, किया हंगामा
x
नामांकन और परीक्षा फॉर्म भरने के दौरान विद्यार्थियों से अलग-अलग स्कूल-कालेज में अलग-अलग राशि वसूल करने के आरोप लग रहे हैं, जिससे विद्यार्थी अक्रोशित हो जा रहे हैं और कई जगह हंगामे हो चुके हैं...

पटना। बिहार में अभी वर्तमान सत्र के लिए इंटरमीडिएट कक्षाओं में नामांकन चल रहा है, साथ ही वर्ष 2021 में होनेवाली परीक्षा का फॉर्म भी भरा जा रहा है।

इस नामांकन और परीक्षा फॉर्म भरने के दौरान विद्यार्थियों से अलग-अलग स्कूल-कालेज में अलग-अलग राशि वसूल करने के आरोप लग रहे हैं, जिससे विद्यार्थी अक्रोशित हो जा रहे हैं और कई जगह हंगामे हो चुके हैं।

इसे लेकर शुक्रवार, 21 अगस्त को सारण जिला मुख्यालय में स्थित रामजयपाल कॉलेज में छात्रों ने हंगामा कर दिया।हालांकि बताया जा रहा है कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा नामांकन और परीक्षा दोनों का शुल्क निर्धारित कर दिया गया है और इस शुल्क से ज्यादा राशि किसी भी स्कूल-कॉलेज को नहीं लेना है।

लेकिन विद्यार्थियों का आरोप है कि ज्यादातर स्कूल-कॉलेजों में निर्धारित शुल्क से अधिक राशि वसूल की जा रही है और इसके लिए कई तरह के अतिरिक्त शुल्क जोड़ दिए जा रहे हैं। विद्यार्थियों का यह भी कहना है कि कई जगहों पर अवैध राशि, यानि बिना रसीद की राशि भी ली जा रही है।

छपरा स्थित रामजयपाल महाविद्यालय में इंटरमीडिएट परीक्षा फॉर्म भरने में महाविद्यालय प्रशासन द्वारा ज्यादा राशि वसूली किए जाने के कारण छात्रों ने हंगामा किया। फिर छात्र संगठन आरएसए के छात्र नेता पहुंचे।

रामजयपाल महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष कुमार मनीष और संगठन के सहसंयोजक विकास सिंह सेंगर ने कॉलेज पहुंच छात्रों का हंगामा शांत किया और जिला शिक्षा पदाधिकारी और रामजयपाल महाविद्यालय के प्राचार्य को अवैध वसूली के संबंध में आवेदन दिया।

छात्र नेताओं ने जल्द से जल्द इस पर करवाई की मांग की और जब तक कोई कार्रवाई नहीं होती है तब तक कोई चालान नहीं काटने की मांग की। इसके बाद प्राचार्य ने एक नोटिस चस्पा कर शनिवार को एक बजे दिन में काउंटर खोलने की सूचना छात्रों को दी है। साथ ही शुक्रवार की भरपाई रविवार को फॉर्म सत्यापन कार्य कर पूरा करने को कहा है।

Next Story

विविध

Share it