शिक्षा

UPSC 2019 के परिणाम घोषित, जामिया मिलिया अकादमी के 30 उम्मीदवारों को मिली सफलता

Janjwar Desk
4 Aug 2020 11:28 AM GMT
UPSC  2019 के परिणाम घोषित, जामिया मिलिया अकादमी के 30 उम्मीदवारों को मिली सफलता
x
हर साल जामिया मिलिया इस्लामिया की रेज़िडेंशियल कोचिंग अकेडमी सिविल सेवा परीक्षा के उम्मीदवारों को मुफ्त में कोचिंग प्रदान करती है, यह सुविधा विशेष रूप से अल्पसंख्यक, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध है....

नई दिल्लीयूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) की ओर से सिविल सेवा परीक्षा 2019 का परिणाम घोषित कर दिया है। इस साल जामिया मिलिया इस्लामिया की रेजिडेंशियल कोचिंग एकेडमी के 30 उम्मीदवारों को यूपीएससी 2019 की परीक्षा में सफलता मिली है। जिन उम्मीदवारों ने इस परीक्षा के लिए अप्लाई किया है वह विभाग की वेबसाइट पर जाकर रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

जामिया के इन 30 उम्मीदवारों की यूपीएससी द्वारा आयोजित भर्ती परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर विभिन्न सिविल सेवाओं के लिए सिफारिश की गई है। इस साल प्रदीप सिंह ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 में टॉप किया है। प्रदीप सिंह के बाद दूसरा व तीसरा स्थान क्रमश: जतिन किशोर और प्रतिभा वर्मा ने हासिल किया है। विश्वविद्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि रेजीडेंशियल कोचिंग एकेडेमी जामिया मिलिया के मौखिक इंटरव्यू ट्रेनिंग के लिए उपस्थित होने वाले पांच उम्मीदवारों ने भी यूपीएससी की भर्ती परीक्षा उत्तीर्ण की है।

बता दें कि हर साल जामिया मिलिया इस्लामिया की रेज़िडेंशियल कोचिंग अकादमी सिविल सेवा परीक्षा के उम्मीदवारों को मुफ्त में कोचिंग प्रदान करती है। यह सुविधा विशेष रूप से अल्पसंख्यक, अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) वर्ग के उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध है। इस अकादमी में महिला उम्मीदवार भी इस अवसर का लाभ उठाने के योग्य हैं, उन्हें जामिया के हॉस्टल की सुविधा के साथ मुफ्त में कोचिंग दी जाती है।

यूपीएससी 2019 की नियुक्ति के लिए कुल 829 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई है, जिसमें 304 जनरल कैटेगरी के उम्मीदवार हैं जबकि 78 ईडब्ल्यूएस (EWS) के उम्मीदवार, 251 ओबीसी (OBC) के उम्मीदवार, एससी (SC) के 129 उम्मीदवार और एसटी (ST) के 67 उम्मीदवार हैं। इस तरह कुलमिलाकर 829 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई है। 11 उम्मीदवारों के परिणाम को रोक दिया गया है।

Next Story

विविध