पर्यावरण

Aaj Ka Mausam: देश में कहीं धूप तो कहीं छांव, विभिन्न राज्यों में मौसम का मिजाज अलग

Janjwar Desk
7 Oct 2021 6:06 PM GMT
Aaj Ka Mausam: देश में कहीं धूप तो कहीं छांव, विभिन्न राज्यों में मौसम का मिजाज अलग
x
Aaj Ka Mausam: राजस्थान और गुजरात के हिस्सों से बुधवार, 6 अक्टूबर को मानसून विदा लेना शुरू कर चुका है..मानसून की विदाई शुरू होते ही गर्मी का असर धीरे-धीरे बढ़ने लगा है...

Aaj Ka Mausam: कहीं धूप-धूप तो कहीं छांव-छांव! बिल्कुल यही हाल इन दिनों देश के विभिन्न राज्यों के मौसम का है। देश के किसी हिस्से में बारिश को लेकर अलर्ट है तो कहीं लोग गर्मी से परेशान है। मॉनसून की विदाई के बीच दक्षिणी हिस्सों समेत कई राज्यों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, राजस्थान और गुजरात मॉनसून के जानेके कारण गर्मी फिर से सताने लगा है।

राजधानी में बादल और सूरज की आंख मिचौली

बात करें देश की राजधानी दिल्ली की तो यहां मौसम विभाग द्वारा दिल्ली-एनसीआर के कुछ हिस्सों में बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के ताजा अपडेट के अनुसार उत्तरी दिल्ली, उत्तर-पश्चिम दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, दक्षिण-पश्चिम दिल्ली सहित कांझावाला, रोहिणी, मुंडका, पश्चिम विहार समेत दिल्ली के कुछ इलाकों में बारिश हो सकती है।

बादल और सूरज के बीच आंख-मिचौली के कारण दिन में अधिकतम तापमान करीब 35 डिग्री रहने की संभावना है वहीं न्यूनतम तापमान लगभग 23 डिग्री के करीब रह सकता है। दिल्ली के आसमान में भी सूरज और बादलों के बीच आंख-मिचौली का खेलदेखने को मिल सकता है।

यूपी में मौसम का हाल

वहीं, दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के कानपुर सहित आसपास के जिलों में मानसून की बारिश का सिलसिला अभी एक हफ्ते और चलेगा। मौसम विभाग द्वारा उम्मीद जताई जा रही है कि 14 अक्तूबर तक प्रदेश से मॉंनसून की विदाई हो जाएगी। हालांकि, मानसून की विदाई की शुरुआत 6 अक्तूबर से राजस्थान से हो चुकी है। लेकिन, इसके यूपी से विदा होने में भी एक सप्ताह का समय और लग सकता है।

मौसम विभाग के मुताबिक, मानसून की विदाई के साथ अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से नमी लेकर आने वाली हवा की जगह भूमध्य सागर से ईरान, अफगानिस्तान के मरुस्थल की शुष्क हवा ले लेगी। अनुमान है कि 15 अक्तूबर से देश के कुछ हिस्सों में हल्की ठंडी भी पड़ने लगेगी।

देश के इन राज्यों में होगी बारिश

मौसम विभाग के अनुसार, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और लक्षद्वीप के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है। बारिश की संभावना को देखते हुए मौसम विभाग द्वारा इन क्षेत्रों में कई तरह के गाइडलाइन भी जारी किए गए हैं। वहीं, दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में भी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया। केरल और कर्नाटक के कुछ जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो दक्षिणी राज्यों में अगले तीन चार दिनों तक बारिश की संभावना बनी हुई है।

इसके अलावा बिहार के स्थानीय मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि मॉनसून के वापसी के साथ ही दुर्गा पूजा के दौरान बारिश नहीं होगी। हालांकि हल्की फुहार जरूर आ सकती है। यहां भी धूप छांव की स्थिति बनी। सितंबर में कई दिनों तक बारिश से भागलपुर और आसपास बिहार के कई जिले प्रभावित हुए। कई निचले इलाकों में जलजमाव की स्थिति बनी हुई है।

राजस्थान में मॉनसून की विदाई के साथ बढ़ा तापमान

रेगिस्तान का राज्य कहे जाने वाले राजस्थान में मानसून की विदाई के साथ ही मौसम में गर्माहट महसूस की जाने लगी है। दिन के अधिकतम तापमान में भी वृद्धि हो रही है। बीते 25-30 दिनों से लगातार हुई बारिश के बाद मौसम में अब बदलाव देखा जा रहा है।

आपको बता दें कि राजस्थान और गुजरात के हिस्सों से बुधवार, 6 अक्टूबर को मानसून विदा लेना शुरू कर चुका है। मानसून की विदाई शुरू होते ही गर्मी का असर धीरे-धीरे बढ़ने लगा है। हालांकि, मौसम विभाग की ओर से प्रदेश में मौसम के साफ रहने की बात कही गई है।

अपने सामान्य समय से 19 दिन की देरी के बाद मॉनसून ने विदाई लेनी शुरू कर दिया है। मानसून की वापसी की रेखा बीकानेर, जोधपुर, जालोर, भुज, से होकर गुजर रही है। मौसम विभाग के पुर्वानुमान के अनुसार अगले 2-3 दिनों के दौरान अधिकांश भागों से मानसून विदा होगा।


Next Story

विविध

Share it