Top
पर्यावरण

कानपुर में खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदूषण, लोगों ने धुएं में उड़ाया एनजीटी का आदेश

Janjwar Desk
15 Nov 2020 8:06 AM GMT
कानपुर में खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदूषण, लोगों ने धुएं में उड़ाया एनजीटी का आदेश
x

photo : social media

जनज्वार, कानपुर। बीते तीन-चार दिनों से कानपुर का एयर क्वालिटी इंडेक्स प्रदूषण 300 के आसपास चल रहा था, लेकिन दीपावली की रात यह खतरनाक स्तर पर पहुंच गया। शाम तक तो लोगों ने खूब संयम बरता, लेकिन इसके बाद लोगों ने एनजीटी के आदेशों को धुएं में उड़ा दिया, जिसका नतीजा रहा कि प्रदूषण रात नौ बजे के बाद 522 एक्यूआई पर पहुंच गया, जोकि खतरनाक स्तर है।

हालांकि पिछली दीपावली के मुकाबले इस बार प्रदूषण करीब 40 प्रतिशत कम रहा। पिछली दीपावली में एक्यूआई 800 के ऊपर रहा था। दिवाली पर दिनभर हवा में प्रदूषण की मात्रा ठीक रही और लोगों ने संयम भी रखा, लेकिन जैसे ही रात के आठ बजे आतिशबाजी शुरू हो गई। एक घंटे बाद ही केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मॉनिटर पर शहर का प्रदूषण 500 पार कर गया।

शहर में प्रदूषण की मात्रा शाम को 6 बजे 188 एक्यूआई थी। इसके एक घंटे बाद यानी 7 बजे प्रदूषण 223 पर पहुंच गया। अगले घंटे 8 बजे यह साढ़े तीन सौ से ऊपर निकल गया। अगले एक घंटे में 200 एक्यूआई का इजाफा हुआ। दिवाली पर इस तरह बढ़ा प्रदूषण दोपहर 12:00 बजे से लेकर शाम के 6:00 बजे तक एक्यूआई 200 से नीचे रहा। शाम 7 बजे 223, रात आठ बजे 357, रात नौ बजे 522 रहा।

एसडीएम अतुल कुमार ने बताया कि इस बार दीवाली पर लोगों ने काफी संयम दिखाया। प्रशासन ने भी शासन के आदेश के अनुसार पटाखों की बिक्री रोकने में काफी हद तक कामयाब रहा। लोगों ने भी आगे आकर इसमें सहयोग किया।

Next Story

विविध

Share it