गवर्नेंस

10 लाख का वेंटिलेटर 22 लाख में, 14 लाख की RT-PCR 49 लाख, विज्ञापन की आड़ में कितना लूटोगे योगीजी : सूर्य प्रताप सिंह

Janjwar Desk
5 July 2021 7:42 AM GMT
10 लाख का वेंटिलेटर 22 लाख में, 14 लाख की RT-PCR 49 लाख,   विज्ञापन की आड़ में कितना लूटोगे योगीजी : सूर्य प्रताप सिंह
x

(उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य विभाग में मेडिकल उपकरण खरीद में घोटाले के आरोप लग रहे हैं)

प्रधानमंत्री जी आपने कहा था ना खाऊंगा ना खाने दूंगा, खाते चलेजा रहे हो खाते चले जा रहे हो, फिर क्यों कहते हो नहीं खाऊंगा कितना खा लोगे आप क्या पूरे देश को खा कर बर्बाद कर दोगे, नहीं चाहिए भाजपा...

जनज्वार/लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय पर घोटाले के कई गंभीर आरोप लगे हैं। आप के संजय सिंह ने यह आरोप लगाते हुए कहा था कि बच्चों के लिए जो वेंटिलेटर 22.5 लाख रुपए में खरीदा जा रहा है उसकी बाजार में कीमत 12 लाख 50 हजार रुपए है। यूनिवर्सल वेंटिलेटर 17 लाख 11 हजार रुपए में खरीदा जा रहा है जिसकी कीमत बाजार में 9 लाख रुपए है।

इसी मसले पर पूर्व IAS सूर्य प्रताप सिंह ने भी ट्वीट कर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामकाज पर सवाल खड़े किए हैं। पूर्व IAS ने लिखा कि '10 लाख का वेंटिलेटर 22 लाख में खरीदा। 14 लाख की RT-PCR मशीन 49 लाख में खरीदी। कितना लूटोगे? कब तक विज्ञापनों की आड़ में अपनी चोरी छिपाओगे योगी जी।' बता दें कि ये कोई पहली बार नहीं है जब सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट करके सरकारी घपलों पर हमला बोला हो।

सूर्य प्रताप सिंह के ट्वीट पर लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया आई है। ज्ञानेंद्र सिंह नाम के यूजर लिखते हैं 'प्रधानमंत्री जी आपने कहा था ना खाऊंगा ना खाने दूंगा। खाते चलेजा रहे हो खाते चले जा रहे हो। फिर क्यों कहते हो नहीं खाऊंगा कितना खा लोगे आप क्या पूरे देश को खा कर बर्बाद कर दोगे। बहुत खा लिया अब ना खाऊंगा ना खाने दूंगा वाली आप की सरकार। हमें नहीं चाहिए भाजपा हटाओ देश बचाओ एक ही विकल्प है।'

ट्वीटर यूजर रविंदर वर्मा लिखते हैं 'तो केवल इसलिए तो नहीं आ रहे हैं अल्फा, बीटा, गामा, डेल्टा, टैंगो, चार्ली वैरिएंट? Thinking face और, जग-जाहिर है कि vaccine के बादशाह अरबों में खेल रहे हैं। वे अकेले तो नहीं खेल रहे होंगे?

यूजर मोनू कुमार ने लिखा है कि 'विज्ञापन मन भ्रमित करने के लिए है, सिर्फ। नहीं तो मोदी जी पंचायत चुनाव में जीत पर योगी जी को बधाई दे रहे हैं, लेकिन पाँच साल के काम पर पाँच लाइनें नहीं बोल पा रहे हैं। ये कैसा पाँच साल था, या सिर्फ जुमले की सरकार थी। सोच समझ कर काम पर चुनें, सांप्रदायिक आना बाना में न फंसे।'

गौरतलब है कि संजय सिंह ने RT-PCR मशीनों का मुद्दा उठाते हुए कहा था, 'मध्य प्रदेश सरकार को जो मशीन 14 लाख रुपए में मिल जाती है वही मशीन योगी सरकार 49 लाख रुपए में खरीदती है।'

Next Story

विविध

Share it