Top
गवर्नेंस

UP : मंत्री और DM के सामने महिला ने पेट्रोल डालकर किया आत्महत्या का प्रयास, सुनवाई न होने से थी आहत

Janjwar Desk
20 March 2021 7:49 AM GMT
UP : मंत्री और DM के सामने महिला ने पेट्रोल डालकर किया आत्महत्या का प्रयास, सुनवाई न होने से थी आहत
x
लड़की वर्षों से दबंगों द्वारा अपनी कब्जा की गई जमीन के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही थी सुनवाई नहीं हुई तो उसने आहत होकर आत्मदाह का प्रयास किया...

जनज्वार, बागपत। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपने चार साल पूरे होने का जश्न मना रही थी उसी वक्त बागपत में एक लड़की ने मंत्री और डीएम के सामने पेट्रोल डालकर खुद को फूंक देने का प्रयास किया। लड़की वर्षों से दबंगों द्वारा अपनी कब्जा की गई जमीन के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही थी सुनवाई नहीं हुई तो उसने आहत होकर आत्मदाह का प्रयास किया।

दरअसल शुक्रवार 19 मार्च को बागपत में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयुष मंत्री और जिला प्रभारी मंत्री डॉ धर्म सिंह सैनी भी इस कार्यक्रम में शरीक होने पहुंचे थे। इस दौरान एक युवती ने खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश की। अफसरों ने किसी तरह लड़की को रोका। इसके बाद कार्यक्रम को बीच में ही समाप्त करना पड़ा और मंत्री कार्यक्रम छोड़कर चले गए।

बागपत कलेक्ट्रेट परिसर में यूपी सरकार के चार साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में खेकड़ा कस्बे के पट्टी चकरसेनपुर निवासी लड़की अपनी दिव्यांग मां बृजेश के साथ राज्य सरकार के चार साल पूरे होने पर कलक्ट्रेट पहुंची। उस समय, मुख्य अतिथि और कार्यक्रम के प्रभारी डॉ। धर्म सिंह सैनी विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र और उपकरण वितरित कर रहे थे।

महिला ने जमीन कब्जे से मुक्त कराने की मांग के लिए मंत्री और डीएम के सामने खुद पर पेट्रोल डाला। उन्होंने माचिस निकालकर आत्मदाह करने की भी कोशिश की। अधिकारियों ने किसी तरह लड़की के हाथ से माचिस छीन ली। इस घटना से कार्यक्रम में खलबली मच गई।वहीं हंगामे के बीच मंत्री डॉ धर्म सिंह सैनी और विधायक सहेंद्र सिंह रमाला और केपी मलिक कार्यक्रम छोड़कर चले गए। महिला पुलिसकर्मियों ने महिला को हिरासत में ले लिया।

महिला ने बताया कि एक गाँव के मुखिया ने उसकी ज़मीन बटाई पर ली थी। लेकिन इसके बाद उसने जमीन पर कब्जा कर लिया। अब जमीन खाली करने के नाम पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने तहसीलदार से लेकर डीएम तक से इस बारे में शिकायत की और उनकी जमीन खाली कराने की मांग की। लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। इससे नाराज होकर उन्होंने आज आत्मदाह का प्रयास किया।

Next Story

विविध

Share it