गवर्नेंस

कानपुर : प्लॉट विवाद में दो दरोगाओं में जमकर हुई मारपीट, लखनऊ वाला पहुँचा अस्पताल

Janjwar Desk
8 Sep 2021 5:07 AM GMT
कानपुर : प्लॉट विवाद में दो दरोगाओं में जमकर हुई मारपीट, लखनऊ वाला पहुँचा अस्पताल
x

(कानपुर के इसी बिधनू थानाक्षेत्र का है मामला) Image/Janjwar

पहले कुछ देर कहासुनी हुई और बाद में हाथापाई होने लगी, मौके पर पहुँची बिधनू पुलिस लखनऊ वाले दारोगा सुनील कुमार को पीटते हुए चौकी ले गई, चौकी में भी सुनील कुमार की पिटाई की गई...

जनज्वार, कानपुर। उत्तर प्रदेश की पुलिस (UP Police) जब खुद में नहीं बना पा रही तो वह दूसरों के लिए मित्र पुलिस कैसे बनेगी। कानपुर (Kanpur) से खबर है कि, यहां के थाना बिधनू में तैनात एक दारोगा का लखनऊ (Lucknow) में तैनात दारोगा से किसी प्लॉट को लेकर विवाद था। मंगलवार यह विवाद जबर्दस्त मारपीट में तब्दील हो गया। मारपीट इतनी हुई की एक दारोगा गंभीर रूप से अस्पताल में भर्ती है।

दरअसल, थाना नौबस्ता (Naubasta) के सिमरा निवासी सुनील कुमार (Sunil Kumar) लखनऊ में दारोगा के पद पर तैनात हैं। सुनील के मुताबिक 'उन्होने साल 2004 में गंगापुर में पत्नी नीलम के नाम पर प्लॉट खरीदा था। वह मंगलवार 7 सितंबर को कुछ निर्माण का काम करवा रहे थे। इसी बीच न्यू आजाद नगर चौकी इंचार्ज व थाना बिधनू के दारोगा ने आकर काम बंद करवा दिया।'

मौके के आस-पास मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि, दोनो के बीच पहले कुछ देर कहासुनी हुई और बाद में हाथापाई होने लगी। मौके पर पहुँची बिधनू पुलिस (Bidhnu Police) लखनऊ वाले दारोगा सुनील कुमार को पीटते हुए चौकी ले गई। आरोप है कि चौकी में भी सुनील कुमार की पिटाई की गई।

ब्लड-प्रेशर के मरीज सुनील कुमार की अचानक से ज्यादा हालत बिगड़ने पर बिधनू पुलिस उन्हें पहले सीएचसी (CHC) ले गई जहां से उन्हें कार्डियोलॉजी (Cordiology) रेफर कर दिया गया। जहां उनकी हालत स्थिर बनी हुई बताई जा रही है।

थाना बिधनू के कार्यवाहक एसएचओ शिव प्रकाश (Shiv Prakash) ने बताया कि 'यशोदा नगर निवासी अनिल त्रिपाठी ने प्लॉट पर कब्जा करने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद वह मौके पर पहुँचे थे। इसी दरमियान सुनील कुमार ने उनपर साथियों सहित हमला कर दिया।'

इस पूरे मामले पर सीओ पवन गौतम (CO Pawan Gautam) ने बताया कि, 'एक जमीन को लेकर विवाद हुआ है। एसडीएम को रिपोर्ट सौंपी गई है। किसकी जमीन है, कौन कब्जा करना चाहता है यह तय होने के बाद कार्रवाई की जाएगी। सुनील कुमार और अनिल त्रिपाठी को पाबंद किया गया है। कार्यवाहक थाना प्रभारी बिधनू ने वर्दी फाड़ने का आरोप लगाया है, जांच चल रही है।'

Next Story

विविध

Share it