गवर्नेंस

Kanpur News Update : पशु व्यापारी के हत्यारे गिरफ्तार, दर्शनपुरवा में असलहों की तस्करी के बीच उजागर हुई कानपुर पुलिस की लापरवाही

Janjwar Desk
10 Nov 2021 4:45 AM GMT
kanpur news
x

मृतक पवन गुप्ता (फाइल फोटो)

आरोपियों ने पुरानी रंजिश और वर्चस्व के कारण हत्या किए जाने की बात कबूली है। वहीं दूसरी तरफ इस हत्याकांड के पीछे फजलगंज पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है...

Kanpur News Update : कानपुर के दर्शनपुरवा में हुई पशु व्यापारी पवन गुप्ता हत्याकांड में पुलिस ने तीन आरोपियों को देर रात गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने पुरानी रंजिश और वर्चस्व के कारण हत्या किए जाने की बात कबूली है। वहीं दूसरी तरफ इस हत्याकांड के पीछे फजलगंज पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

बताया जा रहा की डेढ़ महीने पहले दोनो पक्षों में विवाद भी हुआ था लेकिन पुलिस ने महज एनसीआर दर्ज कर मामला रफा दफा कर दिया था। पुलिस की तफ्तीश में यह भी सामने आया है कि आरोपी बिल्लू उर्फ सुशांत, बेटू शुक्ला और करन कश्यप उर्फ आलू ने अपने चार से पांच साथियों सहित साहिल को सिर पर पत्थर मारकर लहूलुहान कर दिया था।

साहिल पवन के पक्ष का युवक था। जब इस बात की भनक पवन को लगी तो वह मौके पर गया, लेकिन आरोपियों ने उसे भी पीट दिया। दूसरी तरफ भीड़ देखकर आरोपी बिल्लू ने पवन को गोली मार दी और फरार हो गये। पुलिस ने देर रात बिल्लू उर्फ सुशांत, बेटू शुक्ला व करन कश्यप उर्फ आलू को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपियों ने रंजिश में हत्या की बात कबूल की है।

315 बोर के तमंचे से मारी गोली

कानपुर के दर्शनपुरवा पवन गुप्ता हत्याकांड में फारेंसिक टीम ने घटनास्थल से जो साक्ष्य जुटाए हैं वहां 315 बोर का एक खोखा भी बरामद किया गया है। फारेंसिक रिपोर्ट के मुताबिक 315 बोर के तमंचे से गोली मारी गई है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक गोली गर्दन को चीरते हुए सिर में जा फंसी। जिसके बाद अधिक खून बहने से पवन की मौत हो गई।

दर्शनपुरवा में होती है असलहों की तस्करी

दर्शनपुरवा क्षेत्र में लगातार आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं। यहां जुआं, सट्टा और हत्या की वारदातें आम हैं। यहां बड़े पैमाने पर असलहों की तस्करी भी की जा रही है। जिसे एक हिस्ट्रीशीटर की निगरानी में होना बताया जाता है। आशंका है कि उसी हिस्ट्रीशीटर ने बिल्लू को भी तमंचा दिया था। पुलिस जानकारी जुटा रही है।

सवा महीने में 6 हत्याएं

फजलगंज थानाक्षेत्र में एक के बाद एक कई वारदातें हो चुकी हैं। फजलगंज में सबसे पहले दंपति प्रेमकिशोर व ललिता सहित उसके बेटे को मार दिया गया था। कच्ची बस्ती निवासी राहुल यादव की पीटकर हत्या की गई थी। 17 अक्टूबर को मेडिकल स्टोर कर्मचारी आशीष अग्निहोत्री को गोली मारकर हत्या की गई थी और अब पशु व्यवसाई को मार दिया गया।

Next Story
Share it