Top
गवर्नेंस

ऑक्सीजन, दवा, वैक्सीन, वेंटिलेटर मिले न मिले लेकिन इस राज्य में एप से होगी शराब की होम डिलीवरी

Janjwar Desk
9 May 2021 4:28 AM GMT
ऑक्सीजन, दवा, वैक्सीन, वेंटिलेटर मिले न मिले लेकिन इस राज्य में एप से होगी शराब की होम डिलीवरी
x
सीएसएमसीएल नाम के ऐप से शराब बुक की जा सकेगी, इसके लिए ग्राहकों को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड, पूरा पता ऐप पर रजिस्टर करना होगा....

जनज्वार, रायपुर। कोरोना वायरस की तीसरी लहर आने का अंदेशा जताया जा रहा है, दूसरी लहर से सरकारें निपट नहीं पा रही हैं। नाकामीयों को लॉकडाउन से ढ़क दिया गया है, जिसके चलते जरूरी सेवाओं के अलावा बाकी व्‍यावसा‍यिक गतिविधियां ठप हैं। छत्तीसगढ़ में भी ऐसा ही है, यहां के कई जिलों में 15 और 17 मई तक के लिए लॉकडाउन लगा है। इस दौरान शराब पीने वालों को समस्‍या न हो इसके लिए राज्‍य के सभी जिलों में शराब की होम डिलीवरी का मसौदा बन गया है।

घर के दरवाजे तक शराब पहुंचाने की इस सेवा के लिए आबकारी विभाग ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। आदेश के तहत 10 मई से यह सुविधा शुरू हो जाएगी। शराब की होम डिलिवरी सुबह 9 बजे से रात 8 बजे तक की जाएगी। शराब की ऑनलाइन बिक्री के लिए छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड होम डिलिवरी के लिए शराब की दुकानों का निर्धारण करेगा

वहीं शराब की होम डिलिवरी कराने को लेकर पूर्व मुख्‍यमंत्री रमन सिंह ने छत्‍तीसगढ़ सरकार पर निशाना साधा है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा है, 'कोरोना संकट में यह देश की पहली सरकार है जो शराब की होम डिलीवरी करेगी। आपके घर राशन, दवाई और वैक्सीन पहुंचे या नहीं लेकिन यह शराब जरूर पहुंचाएंगे। सोचिए! अस्पतालों में मरीज दम तोड़ रहे हैं लेकिन इस सरकार को बस शराबियों की चिंता है।'

शराब की होम डिलिवरी की बुकिंग करने के लिए बाकायदा एक एप भी बनाया गया है। सीएसएमसीएल नाम के इस ऐप से शराब बुक की जा सकेगी, इसके लिए ग्राहकों को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड, पूरा पता ऐप पर रजिस्टर करना होगा। ऑनलाइन शराब ऑर्डर करने के दौरान शराब का नाम और उसका रेट ऐप पर दिखेगा।

इस ऑनलाइन सेवा के तहत शराब की दुकान से 15 किलोमीटर की रेंज के भीतर शराब मंगाई जा सकेगी। हालांकि इसके लिए उपभोक्‍ता को पहले ऑनलाइन पेमेंट करना होगा और 100 रुपए तक डिलीवरी चार्ज देना होगा।

Next Story

विविध

Share it