ग्राउंड रिपोर्ट

Sahara India: सहारा के बेसहारा करोड़ों परिवार भुखमरी के कगार पर, 3 लाख करोड़ डकार कर बैठे सुब्रत रॉय मोदीराज में पिछले 7 साल से पैरोल पर

Janjwar Desk
17 Aug 2022 1:07 PM GMT
सहारा इंडिया का हिस्सा रहे कर्मचारियों ने किया आंदोलन, बोले-नहीं मिला पैसा तो होंगे आत्महत्या को मजबूर
x

सहारा इंडिया का हिस्सा रहे कर्मचारियों ने किया आंदोलन, बोले-नहीं मिला पैसा तो होंगे आत्महत्या को मजबूर

Sahara India: आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारी ने जनज्वार के माध्यम से प्रधानमंत्री जी से सवाल किया कि मोदी जी ने 2019 में चौकीदार का एक कम्पैन चलाया था उसका क्या हुआ, उस दौरान प्रधानमंत्री जी ने कहा था की आप चैन से रहिये आपका चौकीदार आपकी रखवाली करेगा परन्तु चौकीदार ने तो हमे लूट लिया...

Sahara India: सहारा इंडिया के कर्मचारियों ने अपनी तमाम मांगों के साथ जंतर मंतर पर 3 दिवसीय प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि सरकार कहती है कि स्वरोजगार करो तो हम सभी ने स्वरोजगार किया और सहारा इंडिया के लिए पैसा जमा किया, सहारा इंडिया का मालिक सुब्रत रॉय पिछले सात सालों से पेरोल पर चल रहा है।

भारतीय इतिहास में यह पहली बार होगा जब कोई सात सालों से पेरोल पर होगा और किसी को कोई सूचना नहीं। जनज्वार से बात करते हुए सहारा इंडिया के एक कर्मचारी की आंखें नम हो गई और उन्होंने बताया कि हम इसे पहले लखनऊ भी गए थे, वहां पर भी हम लोगों से यह कहा गया की आपका पैसा मिल जाएगा, पर समय लगेगा। सरकार इस तरह के आश्वासन हमे पिछले 12 सालों से दे रही है। 2014 में हमे कहा गया था कि मोदी जी के आने से अच्छे दिन आ जायेंगे, परन्तु ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। हालत पहले जैसे ही हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमारी पेमेंट नहीं दी गई तो आज हमे आत्मदाह करना पड़ेगा।

चौकीदार ने हमें लूट लिया

आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारी ने जनज्वार के माध्यम से प्रधानमंत्री जी से सवाल किया कि मोदी जी ने 2019 में चौकीदार का एक Campaign चलाया था उसका क्या हुआ, उस दौरान प्रधानमंत्री जी ने कहा था की आप चैन से रहिये आपका चौकीदार आपकी रखवाली करेगा, परन्तु चौकीदार ने तो हमे लूट लिया। मोदी जी की सरकार जब से आई है तब से कोई भी हमारी सुनवाई नहीं करता है। पुलिसकर्मी सहारा का नाम सुनते ही भगा देते हैं। वहीं एक दूसरे प्रदर्शनकारी का कहना है कि मैंने हर महीने सहारा वाले को 5,000 रुपए जमा कराए और सहारा वाले ने मेरे साथ धोखा किया और मेरा सारा पैसा डूब गया। उन्होंने कहा कि थाने में भी मेरी सुनवाई नहीं होती वहां से मुझे भगा दिया जाता है।

लोग देते हैं जान से मारने की धमकी

इसी दौरान सहारा इंडिया के एक कर्मचारी ने बताया कि उसे लोग जान से मारने की धमकी देते हैं। कहीं बाहर निकलने पर लोग उसे घेर लेते हैं और अपना पैसा मांगते हैं। हालात इतने बेकार हो गए हैं कि लोग घर से उठा कर ले जाते हैं। आगे बात करते हुए उसने कहा कि हमारी इज्जत पूरी तरह से चली गई है अब बस जान बची है और अगर हमे हमारा पैसा नहीं मिला तो हम आत्मदाह करने पे मजबूर हो जाएंगे।

मन की बात कार्यक्रम पर भी चर्चा

सहारा के कर्मचारियों ने जनज्वार मीडिया से अपील कि की वह उनके मन की बात प्रधानमंत्री जी तक पहुंचा दें। प्रधानमंत्री जी से कहिए कि उनके द्वारा चलाए गए कार्यक्रम मन की बात में वो हमे भी बोलने का मौका दें, हम भी अपने मन की बात उनसे कहना चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमें मुफ्त राशन मत दो हमारा भुगतान कर दीजिये, हमारा जीवन सफल हो जाएगा, क्योंकि लोग जान से मारने की धमकी देने हैं, अगर हम जिन्दा ही नहीं बचे तो ऐसे राशन का क्या करेंगे।

सुब्रत रॉय को पेरोल क्यों

बातचीत के दौरान प्रदर्शनकारी ने सवाल किया कि सुब्रत रॉय को पेरोल किस आधार पर मिली हुई है। लाखों लोगों के साथ धोखा करने वाले सुब्रत रॉय को पेरोल क्यों दी गई है। ऐसा कौन सा कानून है जो इतने गंभीर आरोप होने पर भी मुजरिम के खिलाफ कार्रवाही नहीं करता। इतना सब होने के बाद भी सुब्रत रॉय सात सालों से पेरोल पर घूम रहा है।

Next Story

विविध