स्वास्थ्य

उत्तर प्रदेश में कोहरे और धुंध के चलते सांस रोगियों में वृद्धि, तापमान में गिरावट से बढ़ेंगी और मुसीबतें

Janjwar Desk
16 Dec 2020 11:15 AM GMT
उत्तर प्रदेश में कोहरे और धुंध के चलते सांस रोगियों में वृद्धि, तापमान में गिरावट से बढ़ेंगी और मुसीबतें
x
आगरा में एक निजी चिकित्सक एस.एस. माथुर ने कहा कि कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप के बीच तापमान में गिरावट से और अधिक समस्या होगी.....

लखनऊ। पूरे उत्तर प्रदेश में पारा गिरना शुरू हो गया है, लेकिन ठंड से ज्यादा यहां कोहरा और धुंध है, जिसके चलते यहां सांस की समस्या से जूझ रहे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज और आगरा के अस्पतालों ने पहले से ही सांस की समस्याओं वाले रोगियों में वृद्धि की सूचना दी है।

फेफड़े के रोग विशेषज्ञ पी.के. त्रिपाठी ने कहा, "हालांकि, शीत लहर अभी तक निर्धारित नहीं हुई है। न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा है। यहां धुंध बढ़ गई है, जिससे श्वसन संबंधी समस्याओं वाले लोगों के लिए समस्या हो रही है।"

उन्होंने कहा कि यह उन लोगों की समस्याओं को बढ़ा सकता है जो कोविड और पोस्ट-कोविड चरण में हैं।

आगरा में एक निजी चिकित्सक एस.एस. माथुर ने कहा कि कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप के बीच तापमान में गिरावट से और अधिक समस्या होगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही सभी जिला अधिकारियों को बेघरों के लिए रैन बसेरों की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है और पूरे जिला में अलाव जलाने के आदेश दिए।

Next Story

विविध

Share it