स्वास्थ्य

श्रीराम के चरणों में हनुमान ने तोड़ा दम, हरियाणा के भिवानी में कलाकार को लाइव परफॉर्मेंस में आया हार्ट अटैक

Janjwar Desk
23 Jan 2024 6:31 AM GMT
श्रीराम के चरणों में हनुमान ने तोड़ा दम, हरियाणा के भिवानी में कलाकार को लाइव परफॉर्मेंस में आया हार्ट अटैक
x
लोग भावुक भी हो रहे थे कि हनुमान का किरदार निभाने वाले कलाकार ने रामलीला में जान डाल दी है, मगर यह अंदाजा किसी को नहीं था कि यह उनकी जिंदगी का लास्ट सीन है, वह दुनिया को अलविदा कह चुके हैं। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है....

Bhiwani news : कहीं नाचते-कहीं गाते हुए, कहीं गाड़ी चलाते हुए तो कहीं जिम करते, खेलते-कूदते, पढ़ते-लिखते, चलते-चलते हार्ट अटैक की घटनायें इतनी आम हो गयी हैं कि कब-किसके साथ ऐसी दुर्घटना हो जाये कहना मुश्किल है। अब एक बार फिर स्टेज पर परफॉर्मेंस के दौरान एक कलाकार की मौत हार्ट अटैक के चलते हो गयी है। अभिनय के दौरान सबको लगा कि यह उनकी प्रस्तुति का हिस्सा है, मगर जब काफी देर तक पोज चेंज नहीं हुआ तो शक हुआ, मगर तब तक कलाकार की मौत हो चुकी थी।

यह दिल दहलाने वाली घटना हरियाणा के भिवानी जनपर की है। यहां कल 22 जनवरी को अयोध्या में राममंदिर में रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान विशेष रामलीला का आयोजन किया गया था। रामलीला मंचन के दौरान हनुमान का किरदार निभा रहे कलाकार की मंच पर ही राम का किरदार निभा रहे साथी कलाकार के चरणों में हार्ट अटैक से मौत हो गई। शुरू में लोगों को लगा कि वो पूजा कर रहे हैं। हनुमान के रूप में उनका जीवंत अभिनय देखकर लोग तालियां बजाते रहे। लोग भावुक भी हो रहे थे कि हनुमान का किरदार निभाने वाले कलाकार ने रामलीला में जान डाल दी है, मगर यह अंदाजा किसी को नहीं था कि यह उनकी जिंदगी का लास्ट सीन है, वह दुनिया को अलविदा कह चुके हैं। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

जानकारी के मुताबिक हरियाणा के भिवानी जिले के जवाहर चौक पर एक सामाजिक संस्था ने श्रीराम के राजतिलक का मंचन का आयोजन किया था, जिसमें हरीश मेहता हनुमान की भूमिका निभा रहे थे। एक भक्तिमय गाने के माध्यम से राजतिलक की तैयारी चल रही थी। जैसे ही गाना खत्म हुआ हनुमान की भूमिका निभाने वाले हरीश मेहता अपना डायलॉग बोलते हुए बाएं से दाईं ओर राम का रोल निभाने वाले साथी कलाकार के पास जाते हैं। इसी दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ता है और वो उनके चरणों में गिर गये।

कुछ देर तक मंच पर मौजूद कलाकारों और दर्शक समझते रहे कि हनुमान अभी भी शीश नवाकर पूजा कर रहे हैं, इसलिए लोग तालियां बजाते रहे। काफी देर बाद कलाकार जब उन्हें उठाने की कोशिश करते हैं, लेकिन हनुमान बने हरीश मेहता नहीं उठे। आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक हरीश मेहता बिजली विभाग से जेई के पद से रिटायर थे और पिछले 25 साल से हनुमान का रोल करते आ रहे थे। स्टेज परफॉर्मेंस के दौरान अचानक हुई उनकी मौत से हर कोई सदमे में है। जिन डॉक्टरों के पास उन्हें ले जाया गया, उनका कहना है कि यहां लाने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी।

गौरतलब है कि कोरोना के बाद से इस तरह की मौतों में खासा इजाफा हुआ है, मगर इसका सीधा रिश्ता कोविड से है ऐसा अभी तक स्वीकारा नहीं गया है। जिस तरह से अच्छे-खासे लोगों की मौतें हो रही हैं, उससे यह बात धीरे-धीरे लोगों के दिमाग में यह बात घर करती जा रही है कि कहीं न कहीं इसके पीछे कोविड और उसका टीका जिम्मेदार है।

Next Story

विविध