Top
स्वास्थ्य

UP : कोरोना वैक्सिनेशन में बड़ी लापरवाही, मोबाइल में व्यस्त नर्स ने महिला को एक साथ लगा दी 2 बार वैक्सीन

Janjwar Desk
3 April 2021 5:35 AM GMT
UP : कोरोना वैक्सिनेशन में बड़ी लापरवाही, मोबाइल में व्यस्त नर्स ने महिला को एक साथ लगा दी 2 बार वैक्सीन
x
जब महिला ने दो बार वैक्सिनेशन को लेकर टोका तो एएनएम ने गलती मानते हुए माफी मांगकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की, लेकिन महिला और उसके परिजनों ने कार्यवाही की मांग को लेकर जमकर पीएचसी में हंगामा किया...

जनज्वार, कानपुर देहात। एक तरफ कोरोना वायरस पूरे देश मे फिर से हाहाकार मचा रहा है, वहीं दूसरी तरफ यूपी के जनपद कानपुर देहात में कोरोना टीकाकरण में बेहद गम्भीर लापरवाही का मामला सामने आया है। जिले की पीएचसी में तैनात एएनएम ने मोबाइल पर बात करते-करते एक महिला को कोरोना का दो बार टीका लगा दिया।

जब महिला ने दो बार वैक्सिनेशन को लेकर टोका तो एएनएम ने गलती मानते हुए माफी मांगकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की, लेकिन महिला और उसके परिजनों ने कार्यवाही की मांग को लेकर जमकर पीएचसी में हंगामा किया। हंगामे की सूचना पर आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और कार्यवाही का आश्वासन देते हुए लोगो को शांत कराया।

कानपुर देहात के अकबरपुर ब्लॉक के मंडौली पीएचसी में कोरोना वायरस को हराने के लिए वैक्सिनेशन का कार्य तेजी से चल रहा है और सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार लोगो को वैक्सीन लगाई जा रही है। इसी के चलते मंडौली गांव की ही रहने वाली कमलेश देवी कोरोना की वैक्सीन का टीका लगवाने मड़ौली पीएचसी गई हुई थी। लेकिन वैक्सिनेशन की ड्यूटी में तैनात एएनएम अर्चना उस समय मोबाइल से बात करने में व्यस्त थी।

इसी दरमियान एएनएम ने मोबाइल पर बात करते-करते ही कमलेश देवी को एक बार वैक्सीन लगाई और फिर मोबाइल से बात करने लगी। कमलेश देवी वही बैठी रही। इस दौरान एएनएम अर्चना ने मोबाइल पर बात करते-करते कुछ पेपर पूरे किए और थोड़ी देर बाद उसको दोबारा वैक्सीन लगा दी। जब कमलेश देवी ने एएनएम को टोका तो पहले एएनएम ने अपनी गलती मानी और माफी मांग कर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की।

इसके कुछ देर बाद ही एएनएम अर्चना अभद्रता पर उतर आई और जमकर कमलेश देवी को ही भला बुरा कहने लगी। जिसके बाद कमलेश देवी और उसके परिजनों ने कार्यवाही को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। एक महिला को एक साथ दो बार कोरोना वैक्सीन का टीका लगाने और उसके बाद महिला और उसके परिजनों द्वारा हंगामा किए जाने की सूचना पर आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और कार्यवाही का आश्वासन देते हुए मामले को शांत कराया।

वहीं इस पूरे मामले में जिले के आलाधिकारी कुछ भी बोलने को कतरा रहे है। लेकिन सवाल बड़ा है कि इस तरह की बड़ी लापरवाही कोरोना वैक्सिनेशन में कही बड़ी घटना को अंजाम न दे दे। साथ मे सवाल यह भी है ऐसे लापरवाह स्वास्थ्य कर्मियों पर अभी तक कार्यवाही क्यो नहीं हुई।

Next Story

विविध

Share it