आजीविका

Government Jobs In Modi Govt : पांच साल में कितने अभ्यर्थियों को दी नौकरी?, सरकार ने संसद में दिया ये जवाब

Janjwar Desk
6 April 2022 2:00 PM GMT
Open Letter to PM : सीसीजी की चिट्ठी के जवाब में अब 197 लोगों के पीएम के नाम लिखा एक खुला खत, इनमें रिटायर्ड जज और पूर्व नौकरशाह और सैन्य अधिकारी शामिल
x

Open Letter to PM : सीसीजी की चिट्ठी के जवाब में अब 197 लोगों के पीएम के नाम लिखा एक खुला खत, इनमें रिटायर्ड जज और पूर्व नौकरशाह और सैन्य अधिकारी शामिल

Government Jobs In Modi Govt : केंद्रीय कार्मिक राज्य मंत्री ने बताया कि पिछले पांच साल में कर्मचारी चयन आयोग और संघ लोकसेवा आयोग ने 18573 और 27764 विज्ञापन निकाले थे और इसके आधार पर 174744 और 24836 अभ्यर्थियों की भर्तियां की.....

Government Jobs In Modi Govt : केंद्र सरकार ने बुधवार संसद में जानकारी दी है कि उसने बीते पांच साल में सरकारी नौकरी (Govt.Jobs) के लिए दो लाख अभ्यर्थियों की भर्ती की है। केंद्रीय कार्मिक राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह (Jitendra Singh) ने संसद में एक सवाल के जवाब में बताया कि बीते पांच साल में केंद्र सरकार की नौकरियों के लिए करीब दो लाख अभ्यर्थियों की भर्ती की गई।

केंद्रीय कार्मिक राज्य मंत्री ने बताया कि पिछले पांच साल में कर्मचारी चयन आयोग और संघ लोकसेवा आयोग (UPSC) ने 18573 और 27764 विज्ञापन निकाले थे और इसके आधार पर 174744 और 24836 अभ्यर्थियों की भर्तियां की। बता दें कि रोजगार के मुद्दे पर विपक्षा लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर रहा है। विपक्ष का आरोप है कि रोजगार देने के मामले में केंद्र की मोदी सरकार फेल रही है।

केंद्रीय मंत्री ने संसद को बताया कि रोजगार के अवसर पैदा करने की दिशा में सरकार की प्राथमिकता को देखते हुए अनेक योजनाएं चलाई गई हैं जिनमें प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, गरीब कल्याण रोजगार अभियान, आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना और पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना आदि हैं।

उन्होंने बताया कि 2017-18 से 2021-22 (कुल 2133498) तक एसएससी ने 185734 रिक्तियों के विज्ञापन निकाले थे और यूपीएससी ने 27764 रिक्तियां निकाली थीं। पांच राज्यों में हुए हालिया विधानसभा चुनाव में विपक्षी दलों ने रोजगार को मुद्दा बनाने की कोशिश की लेकिन यह वोट में तब्दील न हो सका। विपक्ष ने सेना समेत विभिन्न क्षेत्रों में भर्ती के मुद्दे को उठाते हुए सरकार को घेरने की कोशिश की थी।

इससे पहले केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव ने राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में कहा था कि मोदी सरकार के सात सालों के कार्यकाल में रोजगार के मोर्चे पर अच्छे आंकड़े सामने आए हैं। उन्होंने कहा था कि वित्त वर्ष 2013-14 के बाद से अबतकर रोजगार में 22 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया है। भूपेंद्र यादव ने कहा था कि परिवहन शिक्षा, आतिथ्य, व्यापार समेत नौ क्षेत्रों में रोजगार में इजाफा हुआ है।

Next Story

विविध