हाशिये का समाज

दिल्ली : श्मशान घाट पर 9 साल की दलित बच्ची से रेप के बाद पुजारी ने किया जबरन अंतिम संस्कार

Janjwar Desk
3 Aug 2021 5:51 AM GMT
दिल्ली : श्मशान घाट पर 9 साल की दलित बच्ची से रेप के बाद पुजारी ने किया जबरन अंतिम संस्कार
x

दिल्ली कैंट इलाके में श्मशान घाट में पानी लेने गयी 9 साल की बच्ची से कथित रेप के बाद जलाकर मार डालने की घटना हुआ था भारी विरोध, बच्ची की मां का रो-रोकर बुरा हाल (file photo) 

श्मशान घाट के अंदर पानी लेने गयी 9 साल की बच्ची के साथ पुजारी और उसके साथियों ने क​थित रूप से बलात्कार किया और घटना का खुलासा होने के डर से जलाकर मार डाला....

जनज्वार, दिल्ली। दिल्ली कैंट इलाके में 9 साल की नाबालिग लड़की के साथ कथित बलात्कार के बाद जलाकर मारने की घटना तूल पकड़ते जा रही है। सोशल मीडिया पर लगातार लोग गरीब मां-बाप की बच्ची के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक 1 अगस्त को श्मशान घाट के अंदर पानी लेने गयी 9 साल की बच्ची के साथ पुजारी और उसके साथियों ने क​थित रूप से बलात्कार किया और घटना का खुलासा होने के डर से जलाकर मार डाला। इतना ही नहीं बच्ची के मां-बाप की मर्जी के बिना उसका अंतिम संस्कार किये जाने का मामला भी सामने आया है।

इस मामले में पुलिस ने एक पुजारी को हिरासत में ले लिया गया है। दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के डीसीपी इंगित प्रताप सिंह के मुताबिक, 1 अगस्त की रात को लगभग 10:30 बजे दिल्ली कैंट पुलिस थाने में एक नाबालिग लड़कीके बलात्कार के बाद मौत और उसके दाह संस्कार के संबंध में एक पीसीआर कॉल आयी थी और पुराने नंगल गांव के लगभग 200 ग्रामीण पुराने नंगल के श्मशान घाट पर इकट्ठा भी हुए थे।

इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार कर IPC की धारा 302, पोक्सो एक्ट, धारा 506, 342, 201, 34 के तहत मामले दर्ज कर लिया है। आरोप यह भी है कि बलात्कार आरोपी पंडित ने बच्ची के परिजनों को 20 हजार रुपया देकर उनका मुंह बंद कराने की भी कोशिश की।

पत्रकार मीना कोतवाल ने ट्वीट किया है, 'दिल्ली में हाथरस जैसा मामला, श्मशान घाट में पंडित समेत 4 लोगों ने किया 9 साल की दलित लड़की का गैंगरेप, फिर जलाया। मां ने कहा- पंडित समेत चारों लोगों को मिले फांसी, उसने स्वीकारा था कि मैंने किया गैंगरेप।'

जानकारी के मुताबिक श्मशान घाट के सामने किराए पर पुराना नंगल में 9 साल की नाबालिग लड़की अपने माता-पिता के साथ रहती थी। रविवार 1 अगस्त की शाम को बच्ची अपनी मां को बताकर श्मशान घाट के वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने गई थी। मीडिया में आ रही जानकारी के मुताबिक शाम को 6 बजे श्मशान घाट के पुजारी पंडित राधेश्याम के साथ मौजूद 2-3 अन्य लोगों ने बच्ची की मां को वहां बुलाया और बच्ची की लाश को यह कहते हुए दिखाया कि वाटर कूलर से पानी पीने के दौरान उसे करंट लग गया था।

परिजनों ने बताया कि लड़की की बाईं कलाई और कोहनी के बीच जलने के निशान थे। उसके होंठ भी नीले पड़े हुए थे। इस घटना के बाद पुजारी और उसके साथ मौजूद 2—3 अन्य लोगों ने उसकी मां से कहा कि अगर इस घटना के बारे में आप लोग पीसीआर को बुलाते हैं तो यह एक मुद्दा बन जायेगा। इसके अलावा पोस्टमॉर्टम में डॉक्टर आपकी बच्ची के सभी अंगों को चुरा लेंगे और इसलिए उसका अंतिम संस्कार करना ही बेहतर होगा। लड़की के घरवालों की मर्जी के बिना उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। बच्ची की की मां और उसके पिता ने बहुत शोर मचाया, मगर फिर भी बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया गया, जिससे इस मामले में शक और गहराता है कि हो न हो बच्ची के साथ जरूर कुछ गलत हुआ होगा, इसलिए उसकी लाश जला दी गयी।

सोशल मीडिया पर इस घटना की आवाज उठाते हुए सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना लिखती हैं, 'दिल्ली कैंट के शमशान के अंदर पानी लेने गई 9 साल की बच्ची के साथ शमशान में मौजूद लोगों ने कथित तौर पर गैंगरेप किया और फिर उसे जिंदा जला दिया,वहां मौजूद अन्य लोगों ने इस बात की पुष्टि भी की है फिर भी अभी तक कोई जांच नहीं हुई है,मैं दिल्ली पुलिस से जल्द न्याय की मांग करती हूँ!'

संजू गोयल ने ट्वीट किया है, 'बलात्कार जैसी घटनाएं रोज़मर्रा की बात हो गई है। लिखते हुए तकलीफ़ हो रही है, पर लोगों के लिए भी यह अब आम बात हो गई है तभी तो रोज़ कोई न कोई वहशी दरिंदा अपना शिकार ढूंढ ही लेता है। कानून के साथ-साथ हम समाज की कमियों को भी नजरअंदाज नहीं कर सकते, क्योंकि सबसे पहले वही बेल कराने पहुंचते हैं।

इस घटना पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट किया है, 'दिल्ली में 9 साल की बेटी की दुखद मौत हुई है।रात से मेरी टीम बच्ची की माँ के साथ है। परिवार का कहना है कि बच्ची के साथ रेप कर उसकी लाश जल्दबाज़ी में जलवायी गयी। FIR दर्ज हुई है & आरोपी गिरफ़्त में है। कोर्ट में बयान हो रहे हैं। पुलिस तुरंत जाँच करे और बेटी को न्याय दिलाए।'

सरिता लिखती हैं, 'रेप रेप रेप जलाने वाले ने उन दरिंदो को क्यों नहीं जला दिया ज़िंदा...? एक दिन ऐसा नहीं गुज़रता, इस तरह की घटना ने हुई हो।आरोपी सामने हो तब भी सज़ा में देरी क्यूँ,.बेटियों से औऱ उनके माता पिता से अनुरोध की वो अपनी बेटियों निडर बनाये वो ताकत बनाये की वो इन दरिंदों को खुद ही सज़ा दे सके।'

मनोज लिखते हैं, 'एक तरफ महिलाएं देश के लिए मेडल लाकर देश का गौरव बढ़ा रही हैं, दूसरी तरह Mada#*#& हराम के पिल्ले बेटियों को नोचे जा रहे हैं, उसके बाद भी तानाशाह धर्म देखकर कार्रवाई करता है। थू है ऐसे सिस्टम पर जिसे मोदी सरकार और सत्ता ने कठपुतली बनाकर रख दिया है।'

अरुषा राठौर लिखती हैं 'देश की सरकार को डूब मरना चाहिए सड़कों पर भरे गंदे पानी में जाकर सिर्फ एक @Pvsindhu1 के मेडल जीत जाने से सरकार देश की बेटियों हजारों बेटियों की इस भयंकर हत्या ओर बलात्कार को छुपा नहीं सकती, आखिर क्या बदला निर्भया केस बाद भी आज भी उसी बर्बरता से बेटियां मारी जा रही है।'

वैभव दीक्षित ने ट्वीट किया है, 'हर जगह सीबीआई इंक्वायरी ही क्यों क्या बाकी सब एजेंसीज फेल हो गई है सच का पता लगाने में। पुलिस इस घटना की कार्यवाही करे और न्यायालय आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दे, ताकि ऐसा करने वाले यह जान जाएं कि ऐसे अपराध कि बस एक ही सजा है और वह है फांसी और सजा मिलने में कोई विलंब न हो।'

Next Story

विविध

Share it