हाशिये का समाज

गंगा में भारी संख्या में लाशें मिलने के बाद बिहार प्रशासन ने UP सीमा पर लगाये महाजाल, बढ़ाया पुलिस का पहरा

Janjwar Desk
13 May 2021 2:32 AM GMT
गंगा में भारी संख्या में लाशें मिलने के बाद बिहार प्रशासन ने UP सीमा पर लगाये महाजाल, बढ़ाया पुलिस का पहरा
x
UP सीमा से सटे बक्सर जिले के चौसा में गंगा से शवों की बरामदगी का सिलसिला अभी जारी है, प्रशासनिक सूत्रों के मुताबिक 8 से 10 लाशों को महाजाल के जरिए निकाला भी गया है....

जनज्वार, बिहार ब्यूरो। बिहार के बक्सर में गंगा नदी में लगभग 100 से भी ज्यादा लाशें मिलने के बाद अब बिहार प्रशासन सतर्क हो गया है। बिहार की पुलिस और प्रशासन ने आरोप लगाया था कि जो लाशें यहां बरामद हुयी हैं, वह यूपी से बहायी गयी हैं। अपनी बात को वही साबित करने के लिए पुलिस ने मल्लाह का वीडियो भी बनाया था, जो कल 12 मई को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

गंगा नदी से अब तक मात्र बक्सर में ही लगभग 100 लाशें मिलने के बाद बिहार प्रशासन ने यूपी की सीमा पर महाजाल लगा दिये हैं। साथ ही घाटों पर पुलिस के पहरे के अलावा ड्रोनों से नजर रखी जा रही है।

गौरतलब है कि उतर प्रदेश की सीमा से सटे बक्सर जिले के चौसा में गंगा से शवों की बरामदगी का सिलसिला अभी जारी है। प्रशासनिक सूत्रों के मुताबिक 8 से 10 लाशों को महाजाल के जरिए निकाला भी गया है।

बक्सर एसपी नीरज कुमार सिंह ने मीडिया को दिये बयान में कहा कि इस मामले में अस्वाभाविक मौत की प्राथमिकी मुफस्सिल थाने में दर्ज कर कर जांच शुरू कर दी गई है। बक्सर जिले के सभी पुलिस थानों को यह आदेश दे दिया गया है कि लाशों की बरामदगी मामले में सभी कानूनी प्रक्रिया अपनाई जाए। गंगा से अज्ञात शव बरामद किए जाने के बाद भी उसका पोस्टमार्टम कराना होगा। वहीं मोटर वोट से पेट्र्रोलिंग करनी है। जिला प्रशासन का भी पूरा प्रशासनिक अमला अलर्ट हो गया है।

कोरोना संभावित मृतकों की इतनी बड़ी संख्या में गंगा से लाशें बरामद होने के बाद बिहार प्रशासन ने बक्सर के चौसा व चरित्रवन स्थित श्मशान घाटों पर दंडाधिकारी और पुलिस पदाधिकारी की निगरानी में कड़ा पहरा कर दिया गया है। बिहार पुलिस का कहना है कि मोटर बोट से गश्ती के माध्यम से भी नजर रखी जा रही है और इतनी बड़ी संख्या में लाशों की बरामदगी के बाद हुई किरकिरी को रोकने के लिए ड्रोन कैमरों का भी उपयोग किया जा रहा है।


गंगा से बरामद हो रहीं अज्ञात लाशों का क्या किया जायेगा? सवाल पर डीएम बक्सर अमन समीर का कहना है कि बरामद शव कहीं का भी हो, उसका निकट के श्मशानघाट पर पूरे सम्मान के साथ दाह संस्कार किया जाए। हमारा मुख्य उद्देश्य गंगा को प्रदूषण से हर हाल में बचाना है।

Next Story

विविध

Share it