हाशिये का समाज

Jaunpur News : दलित बस्ती में ना बिजली का खम्भा और ना तार, फिर भी बिल आया एक लाख चार हजार, क्या है पूरी कहानी

Janjwar Desk
17 April 2022 2:07 PM GMT
Jaunpur News : दलित बस्ती में न बिजली का खम्भा और तार, फिर भी बिल आया एक लाख चार हजार, क्या है पूरी कहानी
x

Jaunpur News : दलित बस्ती में न बिजली का खम्भा और तार, फिर भी बिल आया एक लाख चार हजार, क्या है पूरी कहानी

Jaunpur News : दलित बस्ती में बिजली का खम्भा तक नहीं है फिर भी यह एक लाख से ज्यादा का बिल राम खेलावन को भेजा गया है.....

Jaunpur News : उत्तर प्रदेश के जौनपुर में बिजली विभाग (Electricity Department) की लापरवाही का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। सिकरारा इलाके के वनसफा गांव की दलित बस्ती (Dalit Basti) में रहने वाले राम खेलावन (Ram Khelawan) के घर पर एक लाख चार हजार से ज्यादा का बिल भेज दिया गया है। बिजली विभाग की ओर से मिले इस भारी भरकम बिल से पूरा परिवार परेशान है लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

दिलचस्प बात यह है कि दलित बस्ती में बिजली का खम्भा तक नहीं है फिर भी यह एक लाख से ज्यादा का बिल राम खेलावन को भेजा गया है। राम खेलावन अब तक जिला बिजली कार्यालय से लेकर स्थानीय कार्यालय पर बिल के मामले में गुहार लगा चुके हैं लेकिन कोई उनकी सुनने को तैयार नहीं है। पीड़ित परिवार अब मुख्यमंत्री से ही उम्मीद लगाए बैठा है कि वह इस मामले का समाधान करेंगे।

राम खेलावन के घर के पास न बिजली का कोई खम्भा है औऱ न कोई कोई तार। बिना बल्व जलाए ही इतनी रकम का बिल आने पर पीड़ित मजदूर परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है।

वहीं पीड़ित परिवार ने बताया कि उसने उपकेंद्र से लेकर जिला बिजली कार्यालय तक मामले को लेक चक्कर लगाए हैं लेकिन जांच कर अभी तक सुधार नहीं हो पाया है।

जानकारी के मुताबिक जौनपुर (Jaunpur News) के सिकरारा इलाके के वनसफा गांव के राम खेलावन के घर में अभी तक बिजली नहीं पहुंची और न ही उन्होंने बिजली कनेक्शन लेने के लिए कभी आवेदन किया। इसके बावजूद एक लाख चार हजार का बिल आ गया है। पीड़ित परिवार के मुताबिक वह बार-बार उपकेंद्र कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं है।

दलित मजदूर परिवार को डर है कि अब कनेक्शन लेने पर उसके नाम से जारी फर्जी बिजली बिल का भुगतान भी उससे वसूलने की कार्रवाई होगी। वह निहायत गरीब और मजदूर है। इस तरह का भुगतान करने में असमर्थ है।

Next Story