हाशिये का समाज

Maharashtra : पति के गांव छोड़ने से नाराज पत्नी ने 2 साल के बेटे को कुएं फेका, जानें फिर क्या हुआ...

Janjwar Desk
7 Dec 2021 9:35 AM GMT
Maharashtra :  पति के गांव छोड़ने से नाराज पत्नी ने 2 साल के बेटे को कुएं फेका, जानें फिर क्या हुआ...
x
मां ने अपने देवर को घटना के बारे में बताया ने लेकिन उसने इसे हल्के में लिया। लोगों ने भी शुरुआत में उसकी बात को अनसुना कर दिया, लेकिन जब शाम को बच्चा नहीं दिखा तो लोगों ने कुएं में खोजबीन की, जहां बेटे की लाश पड़ी थी।

नई दिल्ली। कई बार परिस्थितियां बद से बदतर होने पर एक माता को कुमाता बनने के लिए मजबूर होना पड़ता है। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के लातूर से सामने आई। चौंकाने वाली इस घटना में एक मां ने अपने पति के गांव छोड़ने और खुद की खराब मनोदशा की वजह से अपने ही दो साल के बेटे को कुएं में फेंक दिया। अब वो जेल में है। ऐसे आप सहज अंदाजा लगा सकते हैं कि एक मां जो अपने बेटे को कुंए में फेंकने के लिए मजबूर हुई, उसकी मनोदशा कैसी होगी। इस तरह की घटनाएं सही मायने में समाज को भी आईना दिखाती हैं।

दरअसल, महाराष्ट्र के मराठवाड़ा इलाके में चौंकाने वाली घटना सामने आई है। एक मां ने अपने 2 साल के बेटे को कुएं में फेंक दिया। इसके बाद मां ने अपने देवर को घटना के बारे में बताया ने लेकिन उसने इसे हल्के में लिया। लोगों ने भी शुरुआत में उसकी बात को अनसुना कर दिया, लेकिन जब शाम को बच्चा नहीं दिखा तो लोगों ने कुएं में खोजबीन की, जहां बेटे की लाश पड़ी थी।

यह घटना लातूर जिले के निलंगा पुलिस स्टेशन की है। जानकारी के मुताबिक घटना रविवार को जिले के केलगांव इलाके में राठेड़ा गांव में हुई है। 2 साल के बेटे समर्थ पांचाल के साथ माया वेंकट पांचाल और उसका पति वेंकट पांचाल राठेड़ा गांव में रहते थे। एक महीने पहले पति-पत्नी में झगड़ा हुआ और तब से पति वेंकट पांचाल 20 किलोमीटर दूरी पर औसा गांव में रहने लगा।

औसा गांव लातूर शहर से 30 किलोमीटर दूरी पर है। जब से पति पत्नी के बीच झगड़ा हुआ, तब से वेंकट हफ्ते में एक दिन बेटे समर्थ से मिलने गांव आने लगा, लेकिन पत्नी से बातचीत बंद थी। रविवार को माया ने अपने देवर को बताया कि उसने अपने 2 साल के बेटे को कुएं में फेंक दिया है। देवर ने भाभी की बात पर ध्यान नहीं दिया और काम पर चला गया।

कुएं में मिली बेटे की लाश

रविवार शाम घर लौटने पर भतीजा नहीं नजर आया तो देवर को अपनी भाभी माया की बात याद आई। उसने तुरंत भाई वेंकट को खबर दी। वेंकट तुरंत गांव लौटा और बेटे समर्थ को खोजना शुरू किया। कुएं में भी देखा लेकिन रात के अंधेरे में नजर नहीं आया। फिर सोमवार सुबह कुएं में खोज अभियान चलाया गया। कुएं में ही बेटे का शव मिला। वेंकट विश्वनाथ पांचाल की शिकायत पर हत्या के आरोप में बच्चे की मां माया पांचाल के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

तनाव की वजह से गई बच्चे की जान

गांव के लोगों की मानें तो माया पांचाल की मानसिक हालात ठीक नहीं बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है। थाना पुलिस को आशंका को पति-पत्नी के बीच तनाव के कारण ही बच्चे की हत्या की गई है। इस मामले में निलंगा पुलिस स्टेशन के सहायक पुलिस निरीक्षक अभिजीत कुदले ने कहा कि माया को बच्चा नहीं चाहिए था। यही वजह होगी कि उसने हत्या कर दी। गिरफ्तार मां ने भी अपना अपराध कबूल कर लिया है।

Next Story

विविध