Top
हाशिये का समाज

उन्नाव : तीनों दलित लड़कियों को पानी में दिया गया था जहर, प्यार ठुकराने पर लेना चाहता था आरोपी रागिनी की जान

Janjwar Desk
19 Feb 2021 5:28 PM GMT
उन्नाव : तीनों दलित लड़कियों को पानी में दिया गया था जहर, प्यार ठुकराने पर लेना चाहता था आरोपी रागिनी की जान
x

लाल घेरे में आरोपी, पुलिस ने बताया कबूल लिया है उसने अपना जुर्म कि पानी में मिलाकर दिया था जहर

रागिनी से एकतरफा प्यार करने वाले लंबू के मुताबिक जहर मिला पानी पीने के कुछ ही देर बाद तीनों बेहोश हो गईं, उनके बेहोश होते ही लंबू और उसका नाबालिग दोस्त​ राजू वहां से भाग गए, इस घटना को उसने प्यार ठुकराने पर दिया था अंजाम...

जनज्वार, उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले स्थित बबुरहा गांव में 17 फरवरी को तीन दलित नाबालिग लड़कियां बेहोशी की हालत में पाई गई थीं। इनमें से दो लड़कियों को जिला अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया, जबकि तीसरी लड़की को गंभीर हालत में कानपुर के एक निजी अस्पताल में रेफर किया गया था। आज शुक्रवार 19 फरवरी को दोनों मृत लड़कियों का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

इस मामले में अब नया खुलासा हुआ है कि तीनों किशोरियों को पानी में जहर मिलाकर दिया गया था। पुलिस जांच में सामने आया है कि तीनों लड़कियों के साथ हुई इस जघन्य वारदात को विनय कुमार उर्फ लंबू ने अपने दोस्तों के साथ अंजाम दिया था। पुलिस ने लंबू और उसके नाबालिग दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक तीनों लड़कियों में से एक रागिनी उर्फ रोशनी से लंबू एकतरफा प्यार करता था। उसका खेत रागिनी के खेत के बगल में है। लंबू कई बार रागिनी के सामने प्यार का इजहार कर चुका था,​ मगर लड़की ने हमेशा मना कर दिया जिससेनाराज लंबू ने उसकी हत्या की योजना बनाई थी। वह केवल रागिनी को मारना चाहता था, लेकिन काजल और कोमल की मौत हो गई और जिसे वह मारना चाहता था वह जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।

पुलिस के मुताबिक रागिनी अपने खेत में काजल और कोमल के साथ खेत में बरसीम काट रही थी। वह ये काम हमेशा दोपहर के बाद करती थी। तभी लंबू गांव के अपने एक नाबालिग दोस्त के साथ वहां पहुंचा और अपने साथ वह एक बोतल पानी में गेहूं में डालने वाला कीटनाशक घोलकर ले गया था। उसने राजू से दुकान से चिप्स मंगवाए थे। लंबू ने उन्हें चिप्स खिलाये और फिर रागिनी ने पानी मांगा तो लंबू ने उसे जहर मिले पानी की बोतल थमा दी। उस बोतल का पानी उन तीनों किशोरियों ने पिया था।

पुलिस का कहना है कि ये सब बातें लंबू ने जांच में कबूल की हैं। लंबू के मुताबिक जहर मिला पानी पीने के कुछ ही देर बाद तीनों बेहोश हो गईं। तीनों के बेहोश होते ही लंबू और उसका नाबालिग दोस्त​ राजू वहां से भाग गए।

इस मामले का खुलासा करते हुए आईजी ने मीडिया को बताया सर्विलांस और स्वाट टीम ने मुखबिर की सूचना पर आरोपितों को पाठकपुर मोड़ के पास से गिरफ्तार किया। सूरज रावत की तरफ से लिखाई गई रिपोर्ट में दोनों आरोपियों का नाम लिख लिया गया है। आईजी ने बताया कि लंबू केवल रागिनी को मारना चाहता था। काजल और कोमल से उसकी कोई नाराजगी नहीं थी।

पुलिस का कहना है कि छानबीन के दौरान जहां तीनों किशोरियां बेहोशी की हालत में पायी गयी थीं, वहां से उसे एक अहम सुराग लगा था। घटनास्थल के पास से फोरेंसिक टीम को चिप्स का पैकेट मिला था, इस पैकेट को सूंघने के बाद खोजी कुत्‍ता एक दुकान की तरफ बार-बार जा रहा था। चिप्स इसी दुकान से खरीदा गया था। पुलिस ने इसी एंगल पर जांच की तो इस बात का खुलासा हुआ था।

Next Story

विविध

Share it