Top
आंदोलन

#FarmersProtest : कृषि कानून के खिलाफ किसान आज भूख हड़ताल पर, जिला मुख्यालयों पर करेंगे प्रदर्शन

Janjwar Desk
14 Dec 2020 2:53 AM GMT
#FarmersProtest : कृषि कानून के खिलाफ किसान आज भूख हड़ताल पर, जिला मुख्यालयों पर करेंगे प्रदर्शन
x

सिंघु बाॅर्डर पर सोमवार की सुबह का दृश्य। किसान आज भूख हड़ताल कर सरकार के कानून का विरोध जताएंगे।

किसान का बड़ा जत्था आज राजस्थान, हरियाणा व पंजाब से दिल्ली पहुंचेंगे। वहीं, किसानों के तेज होते आंदोलन को लेकर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है...

जनज्वार। किसान आंदोलन में शामिल किसान सोमवार को सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक भूख हड़ताल करेंगे। आज किसानों के आंदोलन का 19वां दिन है और उन्होंने अब अपने आंदोलन को नया तेवर देने का निर्णय लिया है। इस क्रम में विभिन्न जिला मुख्यालयों पर भी धरना देंगे।

उधर, कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के और तेज होने को लेकर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की है। अमित शाह अब दूसरी बात किसान नेताओं से वार्ता कर सुलह की कोशिश करने जा रहे हैं। इससे पहले पिछले सप्ताह किसान नेताओं के साथ तीन घंटे लंबी चली उनकी बैठक बेनतीजा रही थी।

वहीं, कृषि कानून के खिलाफ सोमवार को भी प्रदर्शनकारी सिंघु बाॅर्डर पर डटे हुुए है। वहां मौजूद एक किसान नेता ने एएनआइ से कहा किसान आज तीन कृषि कानूनों के खिलाफ भूख हड़ताल करेंगे। किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब के नेता दयाल सिंह ने कहा कि सरकार के काले कानूनों की वजह से अन्नादाता आज भूख हड़ताल कर रहे हैं।

किसान आंदोलन का बढेगा दायरा

किसान आंदोलन को और विस्तार देने के लिए पंजाब, राजस्थान, हरियाणा से हजारों किसानों को जत्था दिल्ली की ओर कूच कर चुका है, जो आज पहुंचेगा। सोमवार को करीब 10 हजार किसान दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बाॅर्डर पर पहुंचेंगे। उधर, राजस्थान से भी हजारों किसान दिल्ली की ओर कूच कर चुके हैं। हालांकि रविवार दोहपर दिल्ली-जयपुर हाइवे पर जयसिंह खेड़ा के पास किसानों को पुलिस ने रोका, इस वजह से जाम भी लगा और फिर साढे तीन घंटे बाद मार्ग खुला।

अरविंद केजरीवाल भी किसानों के समर्थन में रखेंगे उपवास

आम आदमी पार्टी के प्रमुख व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी आज किसानों के समर्थन में भूख हड़ताल करेंगे। उन्होंने किसानों के भूख हड़ताल के फैसले का समर्थन करते हुए खुद भी भूख हड़ताल पर रहने की बात कही है। उन्होंने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं व समर्थकों से भी भूख हड़ताल करने की अपील की है। वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इसे केजरीवाल की नौटंकी बताया है।



Next Story

विविध

Share it