आंदोलन

बिहार : फोर लेन की सड़क बनाने के लिए तोड़ दिया हाई स्कूल, विरोध में सड़क पर ही घंटी बजाकर लगाई क्लास

Janjwar Desk
1 Sep 2021 3:31 PM GMT
बिहार : फोर लेन की सड़क बनाने के लिए तोड़ दिया हाई स्कूल, विरोध में सड़क पर ही घंटी बजाकर लगाई क्लास
x

फोरलेन के लिए तोड़ा स्कूल तो छात्र-छात्राओं ने सड़क पर ही शुरू कर दी पढ़ाई

पटना-बक्सर फोरलेन बनाने के लिए आरा के कोइलवर हाईस्कूल को तोड़ दिया गया लेकिन उसकी जगह पर दूसरा विद्यालय नहीं बनाया गया, अब लोगों ने सड़क पर ही क्लास लगा आंदोलन शुरू कर दिया है..

जनज्वार। पटना-बक्सर फोरलेन बनाने के लिए आरा के कोइलवर हाईस्कूल को तोड़ दिया गया लेकिन उसकी जगह पर दूसरा विद्यालय नहीं बनाया गया। इसे लेकर अब स्थानीय CPIML के विधायक मनोज मंजिल के नेतृत्व में क्षेत्र के लोगों ने आंदोलन शुरू कर दिया है और इसके तहत फोरलेन सड़क पर ही पाठशाला लगा दी है।

इसे लेकर भाकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल ने कहा है कि नीतीश सरकार शिक्षा विरोधी सरकार है और वह छात्र-छात्राओं को स्कूलों से बाहर करने की साजिश रच रही है। कुणाल ने कहा, "भोजपुर के कोइलवर में जिला स्कूल को तोड़कर फोरलेन बना दिया गया है। सरकार यह बताए कि बच्चे अब कहां पढ़ने जाएं?"

उधर, पटना-बक्सर फोरलेन के लिए कोईलवर हाई स्कूल का भवन तोड़े जाने और उसकी वैकल्पिक व्यवस्था नहीं किये जाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने आज बुधवार से माले विधायक मनोज मंज़िल के नेतृत्व में पटना-बक्सर फोरलेन पर स्कूल आंदोलन शुरू कर दिया है। लोगों ने फोरलेन पर ही आज स्कूल लगाया।


विधायक मनोज मंजिल ने कहा कि विद्यालय भवन को तोड़े हुए दो वर्ष हो गए हैं, लेकिन अब तक विद्यालय का भवन और जमीन की व्यवस्था नहीं की गई। स्थानीय ग्रामीणों ने इस मामले में लगातार अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से भवन निर्माण का आग्रह किया, लेकिन अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने कभी इस मामले पर पहल नहीं की।

विद्यालय के अभाव में सैकड़ो बच्चों का भविष्य अधर में है। बता दें कि इस विद्यालाय में करीबन 1600 छात्र-छात्राएं की पढ़ाई होती थी। आईसा-इनौस द्वारा चलाये जा रहे 'सड़क पर स्कूल' आंदोलन के तहत भीषण गर्मी के बावजूद छात्र-छात्राएं सड़क पर टिके हुए हैं। विधायक मनोज मंजिल ने आरोप लगाया कि अब तक असंवेदनशील प्रशासन ने कोई खोज खबर नहीं ली है।

बुधवार सुबह 10 बजे घंटी बजते ही कोइलवर के छात्र-छात्राएं पटना-बक्सर फोरलेन पर जुट गए। राष्ट्रगान के साथ कक्षा की पहली घंटी बजी और फिर घंटी वार विभिन्न विषयों की पढ़ाई हुई। इतिहास,भूगोल,समाजशास्त्र,नैतिक शिक्षा आदि की घंटिवार पढ़ाई की गई।

अगिआंव विधायक और इनौस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज मंज़िल ने विद्यालय का खेल मैदान और क्षतिग्रस्त भवन का जायजा लिया और स्थानीय लोगों से चर्चा की।

उन्होंने कहा, "यह हैरतअंगेज है कि सड़क को बनाने के लिए एक स्कूल को तोड़ दिया गया और दो साल बीतने के बाद भी उसके लिए कोई स्थाई समाधान नही ढूंढा गया। जब तक स्कूल का भवन नहीं बनता, आंदोलन जारी रहेगा। इस आंदोलन में शिक्षक और अभिवावक भी शामिल हो रहे हैं।"

Next Story

विविध