Top
राष्ट्रीय

आसाम में बाढ़ से 30 जिले और 27 लाख की आबादी प्रभावित, व्यथित पूर्व पीएम देवगौड़ा ने मोदी से की अपील

Janjwar Desk
19 July 2020 4:21 AM GMT
आसाम में बाढ़ से 30 जिले और 27 लाख की आबादी प्रभावित, व्यथित पूर्व पीएम देवगौड़ा ने मोदी से की अपील
x
बाढ़ से आसाम के 33 में से 30 जिले प्रभावित हैं। बाढ़ से कुल मरने वालों की संख्या 105 तक पहुंच गई है, इनमें से 26 भूस्खलन में मारे गए हैं।

जनज्वार। आसाम कोरोना और बाढ़ का दोहरा मार झेल रहा है। ब्रह्मपुत्र नदी के जलस्तर में थोड़ी कमी के बावजूद आसाम में बाढ़ के हालात खराब हैं। हजारों लोग राहत कैंपों में रह रहे हैं तो बाढ़ और भूस्खलन से अबतक 105 लोग जान गंवा चुके हैं। काजीरंगा नेशनल पार्क भी बाढ़ की चपेट में है। सीएम सर्बानन्द सोनोवाल ने पार्क का दौरा किया है।

राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार, आसाम में बाढ़ से 30 जिले प्रभावित हो गए हैं। 18 जुलाई को बाढ़ के कारण 3 और लोगों की मौत हो गई, जिसके बाद मरने वालों की संख्या 105 तक पहुंच गई है। इनमें से 26 लोग भूस्खलन का शिकार हुए हैं।

बाढ़ से 27 लाख 64 हजार की आबादी प्रभावित हुई है। पिछले 24 घँटों में बाढ़ में फंसे 511 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। कुल 47665 लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने पीएम नरेंद्र मोदी से त्वरित ध्यान देने और अधिकाधिक सहायता की अपील की है। देवगौड़ा ने ट्विट कर कहा है कि 'आसाम बाढ़ के कारण बुरी तरह से प्रभावित हो गया है और इसकी खबरें देख-सुनकर चिंता हो रही है। मैं पीएम मोदी और पीएमओ से अपील करता हूं कि बाढ़ और कोरोना से प्रभावित आसाम पर तुरंत विशेष ध्यान दिया जाय।'

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आसाम में अभी 711 बाढ़ राहत कैंप चलाए जा रहे हैं। बाढ़ से 1.28 लाख हेक्टेयर से ज्यादा की फसल का नुकसान हो गया है। कोरोना और बाढ़ के दोहरे मार से राज्य के लोग भारी परेशानी में हैं।

काजीरंगा नेशनल पार्क भी बाढ़ से प्रभावित है। मुख्यमंत्री सर्बानन्द सोनोवाल ने 17 जुलाई को काज़ीरंगा पार्क का दौरा किया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 और बाढ़ के कारण आसाम बुरी तरह से प्रभावित है, पर हम आसाम के लोगों के सहयोग से इस आपदा का सामना करेंगे और जीतेंगे।

Next Story

विविध

Share it