राष्ट्रीय

प्रतापगढ़ के BJP सांसद संगम लाल गुप्ता से मांगी गई 5 करोड़ की फिरौती, ना देने पर बम से उड़ाने की मिली धमकी

Janjwar Desk
10 Aug 2021 6:24 AM GMT
प्रतापगढ़ के BJP सांसद संगम लाल गुप्ता से मांगी गई 5 करोड़ की फिरौती, ना देने पर बम से उड़ाने की मिली धमकी
x

भाजपा सांसद को बम से उड़ाने की धमकी.

सांसद ने बताया कि आवास पर पहुंचने के बाद करीब साढ़े 9 बजे उनके मोबाइल पर अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया और धमकी देते हुए 5 करोड़ रुपए फिरौती की मांग की। उसके बताए पते पर पहुंचाने की बात कही, न देने पर बम से उड़ाने की धमकी दी..

जनज्वार, दिल्ली/लखनऊ। भाजपा सांसद (BJP MP) संगम लाल गुप्ता को बदमाशों ने फोन पर बम से उड़ाने की धमकी देते हुए 5 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी है। धमकी मिलने के बाद सांसद ने सोमवार को दिल्ली के नॉर्थ एवेन्यू थाने में मामले की तहरीर दी है। मामला हाईप्रोफाइल होने के चलते प्रकरण की जांच एंटी टेररिस्ट सेल कर रही है।

दरअसल, सांसद संगम लाल गुप्ता रविवार 8 अगस्त की रात करीब 8:30 बजे अपने चार पहिया वाहन से दिल्ली के लिए ट्रेन पकड़ने प्रयागराज जा रहे थे। मलाका के पास इंडियन आयल पेट्रोल पंप के करीब बगल से गुजरते हुए अज्ञात वाहन सवारों ने उन्हें धमकाते हुए गाली-गलौच की। इस पर उन्होंने अपनी गाड़ी रोकी तो वाहन सवार आरोपी वहां से भाग निकले।

घटना के संबंध में सांसद ने आईजी (IG) प्रयागराज केपी सिंह को फोन पर अवगत कराया था। रात करीब 9:30 बजे जंक्शन से प्रयागराज एक्सप्रेस ट्रेन पकड़कर सांसद सोमवार 9 अगस्त की सुबह दिल्ली पहुंचे। घटना की लिखित शिकायत देने के बाद सांसद के दिल्ली स्थित आवास पर पहुंची जांच टीम ने उनसे घटनाक्रम के बारे में जानकारी ली है।

उन्होंने बताया कि आवास पर पहुंचने के बाद करीब साढ़े 9 बजे उनके मोबाइल पर अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया और धमकी देते हुए 5 करोड़ रुपए फिरौती की मांग की। उसके बताए पते पर पहुंचाने की बात कही, न देने पर बम से उड़ाने की धमकी दी। सांसद संगम लाल गुप्ता के मुताबिक शाम को भी उनके मोबाइल पर फोन कॉल आई थी।

बदमाश ने प्रतापगढ़-अमेठी रोड पर सहरूवा का नाम लेते हुए वहां 5 करोड़ रुपए पहुंचाने की बात कही। गाली-गलौच करते हुए फोन करने वाले ने धमकाया कि अगर रुपए बताए पते पर नहीं पहुंचाए गए तो सांसद व उनके साथी को बम से उड़ा दिया जाएगा। उसके बाद सांसद ने घटना की सूचना दिल्ली के नॉर्थ एवेन्यू थाने में दी। मामले की जांच आतंकवादी निरोधक प्रकोष्ठ कर रहा है।

Next Story

विविध

Share it