Top
राष्ट्रीय

यूपी के बाराबंकी में इलाज ना मिलने से 5 माह की मासूम ने तोड़ा दम, बच्ची के मरने के बाद तक खोजे नहीं मिले डॉक्टर

Janjwar Desk
31 May 2021 7:13 AM GMT
यूपी के बाराबंकी में इलाज ना मिलने से 5 माह की मासूम ने तोड़ा दम, बच्ची के मरने के बाद तक खोजे नहीं मिले डॉक्टर
x

अस्पताल के बाहर बच्ची को गोद में लिए रोता पिता.इलाज ना मिलने से बच्ची ने तोड़ा दम.परिजनों का है ये आरेप. photo - social media

परिजनो ने मासूम के इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि यदि समुचित उपचार किया गया होता तो मासूम की जान न जाती, वह बच जाती...

जनज्वार, बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में चिकित्सकों की लापरवाही की वजह से एक मासूम की जान चली गई। बच्ची की मौत की जानकारी मिलते ही परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा काटा। सूचना मिलने पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने हंगामा कर रहे आक्रोशित परिजनो को समझा-बुझाकर शांत कराया।

जानकारी के मुताबिक बाराबंकी के सिरौलीगौसपुर स्थित संयुक्त चिकित्सालय की इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक पर परिजनो ने मासूम के इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि यदि समुचित उपचार किया गया होता तो मासूम की जान न जाती, वह बच जाती।

बताया जा रहा है कि कोतवाली बदोसरायं के ग्राम तासीपुर के रहने वाले संदीप कुमार शुक्ला कि 5 महिने की बेटी नित्या घर में तखत पर सो रही थी। इसी दौरान अचानक वह नीचे जा गिरी और बेहोश हो गई। परिजन तुरंत उसे लेकर संयुक्त चिकित्सालय में पहुंचे लेकिन इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर कहीं पर खोजने पर भी नहीं मिले।

परिजन डॉक्टर की खोज में इधर-उधर भटकते रहे। उधर इधर दर्द से तड़प रही मासूम की जान निकल गई। यह देख परिवारीजनों ने अस्पताल परिसर में हंगामा शुरू कर दिया और इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर पर कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हंगामा कर रहे आक्रोशित परिवारीजनों को किसी प्रकार समझा-बुझाकर शांत कराया।

परिवारीजनों ने मामले की लिखित शिकायत पुलिस से की है। सीएमओ डॉ. बीकेएस चौहान ने बताया कि सिरौलीगौसपुर स्थित संयुक्त चिकित्सालय में एक मासूम की मौत की सूचना मिली है। पूरे मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट में जो भी दोषी मिलेगा उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it