राष्ट्रीय

गुस्साए किसानों ने फाड़े मोदी-खट्टर के बैनर पोस्टर, राज्यपाल से सलाहकारों ने पंचकूला चंडीगढ़ बॉर्डर पर आकर लिया ज्ञापन

Janjwar Desk
26 Jun 2021 10:54 AM GMT
गुस्साए किसानों ने फाड़े मोदी-खट्टर के बैनर पोस्टर, राज्यपाल से सलाहकारों ने पंचकूला चंडीगढ़ बॉर्डर पर आकर लिया ज्ञापन
x

(किसानों ने खम्भों पर चढ़कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष व पंचकूला विधायक ज्ञान चंद गुप्ता की तस्वीर लगे बैनर भी फाड़ डाले।)

भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढुनी ने ज्ञापन सौंपने के बाद बिजली दफ्तर के घेराव का आह्वान किया और कहा कि सरकार किसान तीनों कृषि कानून वापस ले....

जनज्वार ब्यूरो/चंडीगढ़। किसान आंदोलन को सात महीने पूरे हो चुके हैं। ऐसे में कई राज्यों के आंदोलनकारी किसान राज्यपाल को अपना ज्ञापन सौंपने निकले हैं। पंचकूला में इकट्ठा हुए हैं। हजारों की संख्या में किसान, किसानों नें गुरुद्वारा नाडा साहिब से चंडीगढ़ राज भवन तक पैदल मार्च किया। यहां राज्यपाल के प्रतिनिधियों ने पंचकूला चंडीगढ़ बॉर्डर पर आकर ज्ञापन लिया।

भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढुनी ने ज्ञापन सौंपने के बाद बिजली दफ्तर के घेराव का आह्वान किया और कहा कि सरकार किसान तीनों कृषि कानून वापस ले। भाजपा सरकार अगर तीनों किसी कानूनों को वापस नहीं लेती है तो 2024 के चुनाव तक आंदोलन रहेगा। पंचकुला में भारी भारी संख्या में महिलाएं भी पहुंची।

पंचकूला में किसानों ने शालीमार चौक पर लगे हरियाणा सरकार के बैनर भी फाड़े। किसानों ने खम्भों पर चढ़कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष व पंचकूला विधायक ज्ञान चंद गुप्ता की तस्वीर लगे बैनर भी फाड़ डाले।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति को संबोधित रोष पत्र राजभवन को सौंपा।

इसके अलावा पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में अखिल भारतीय किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने राजभवन के बाहर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन किया।


Next Story

विविध

Share it