राष्ट्रीय

251 रुपये में स्मार्टफोन देने का झांसा देने वाले मोहित गोयल का एक और कारनामा, फिर हुआ गिरफ्तार

Janjwar Desk
26 Aug 2021 3:30 AM GMT
251 रुपये में स्मार्टफोन देने का झांसा देने  वाले मोहित गोयल का एक और कारनामा, फिर हुआ गिरफ्तार
x

फ्रीडम 251 स्मार्टफोन वाले मोहित गोयल को एक अन्य मामले में फिर गिरफ्तार किया गया है (file pic.)

मोहित गोयल 200 करोड़ रुपए के ड्राई फ्रूट घोटाले का भी मुख्य आरोपी है, उसे ग्रेटर नोएडा से गिरफ्तार किया गया, पुलिस ने कहा कि गिरफ्तारी एक अलग मामले में की गई है..

जनज्वार। 4 वर्ष पहले मात्र 251 रुपये में दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन 'फ्रीडम 251' देने का वादा कर सुर्खियां बटोरने वाले मोहित गोयल को पुलिस ने एक दूसरे मामले में फिर गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि फ्रीडम 251 की प्री बुकिंग करने वाले लोगों का आरोप है कि उनको आजतक मोबाइल फोन नहीं मिल सका है। मोहित 200 करोड़ रुपए के ड्राई फ्रूट घोटाले का भी मुख्य आरोपी है। मोहित गोयल को ग्रेटर नोएडा से गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने कहा कि गिरफ्तारी एक अलग मामले में की गई है।

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, विगत 19 अगस्त को इंदिरापुरम निवासी विकास मित्तल ने गोयल और पांच अन्य लोगों के खिलाफ 41 लाख रुपए की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए थाने में एक FIR दर्ज कराई थी। गोयल के ग्रेटर नोएडा स्थित घर पर सोमवार को छापा मार कर गिरफ्तार कर लिया गया।

इंदिरापुरम के SHO संजय पांडे ने कहा, "उसने विकास मित्तल से 41 लाख रुपए ठगे थे और जब पीड़ित ने उसका विरोध किया, तो उसे धमकाया गया। विगत 19 अगस्त को आरोपी ने मित्तल को कार से कुचलने की भी कोशिश की। मित्तल घायल हो गए और उसी दिन उन्होंने गोयल के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।"

मित्तल की शिकायत के आधार पर मोहित गोयल के खिलाफ IPC की धारा 420 (धोखाधड़ी), 384 (जबरन वसूली), 386 (किसी व्यक्ति को मौत की धमकी देकर जबरन वसूली), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 504 (उल्लंघन भड़काने के इरादे से जानबूझकर अपमान), 506 (धमकाना), 307 (हत्या का प्रयास) और 120बी (आपराधिक साजिश) के तहत FIR दर्ज की गई थी।

थानाध्यक्ष पांडे ने कहा "FIR के बाद, गाजियाबाद पुलिस की एक टीम ने गोयल के घर पर छापा मारा और उसे गिरफ्तार कर लिया। पांच और लोगों का नाम भी FIR में है।"

बता दें कि वर्ष 2017 में, मोहित गोयल ने "फ्रीडम 251" नामक स्मार्टफोन को 251 रुपए में बेचने को लेकर खूब प्रचार किया था। गोयल ने इसे मार्केट का सबसे सस्ता स्मार्टफोन करार दिया था।

उसी साल गोयल को घोटाले में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद उसे 2018 में रंगदारी के एक मामले में भी गिरफ्तार किया गया था। मोहित गोयल नोएडा के सेक्टर 62 में एक ऑफिस कॉम्प्लेक्स से दुबई ड्राई फ्रूट्स एंड स्पाइसेस हब नाम की कंपनी चला रहा है।

पुलिस ने कहा कि पंजाब, हरियाणा, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और दूसरे राज्यों के व्यापारियों से कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी की कम से कम 40 लिखित शिकायतें मिली हैं। पुलिस ने कहा कि गोयल के खिलाफ देश भर में धोखाधड़ी और दूसरे अपराधों के 35 मामले दर्ज हैं।

Next Story

विविध

Share it