Top
राष्ट्रीय

योगी आदित्यनाथ से पहले अमित शाह से मिली अपना दल की अनुप्रिया पटेल, मंत्री बनाने को लेकर बढ़ाया दबाव

Janjwar Desk
11 Jun 2021 3:57 AM GMT
योगी आदित्यनाथ से पहले अमित शाह से मिली अपना दल की अनुप्रिया पटेल, मंत्री बनाने को लेकर बढ़ाया दबाव
x

गुरूवार को दिल्ली में अनुप्रिया पटेल और अमित शाह की बैठक अहम मानी जा रही है.शाह ने योगी के काम का फीडबैक लिया है.

अनुप्रिया ने आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी की सीटों को बढ़ाने के मुद्दे पर भी बात की है। ताकि पिछड़ी जाति के समीकरण को और मजबूत किया जा सके। दरअसल मोदी के दूसरे कार्यकाल में अपना दल (एस) को अब तक प्रतिनिधित्व नहीं मिल पाया है...

जनज्वार ब्यूरो, नई दिल्ली। पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की करारी शिकस्त के बाद प्रदेश सरकार व भाजपा संगठन में फेरबदल की अटकलों के बीच अमित शाह से अनुप्रिया पटेल से मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। इसका एक कारण यह भी है कि दोनो की मुलाकात के दौरान योगी भी दिल्ली में मौजूद रहे।

भाजपा की सहयोगी अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने गुरूवार 10 जून को दिल्ली में अमित शाह से मुलाकात कर प्रदेश की सियासय में नई चर्चा को जन्म दे दिया है। बताया जा रहा है कि योगी और शाह की वार्ता से ठीक पहले अनुप्रिया की मुलाकात बेहद अहम है। सूतेपों की माने तो शाह ने अनुप्रिया से भी योगी सरकार के कामों का फीडबैक लिया है।

अनुप्रिया पटेल ने भी केंद्र व प्रदेश में संभावित मंत्रीमंडल विस्तार में अपना दल को प्रतिनिधित्व देने के साथ ही जिला पंचायत अध्यक्ष और निगमों व आयोगों में पार्टी को हिस्सेदारी देने के मुद्दे पर चर्चा की है। सूत्रों की माने तो अनुप्रिया ने शाह से मुलाकात के दौरान केंद्र में खुद के लिए तो प्रदेश में अपने एमएलसी पति आशीष पटेल के लिए मंत्रिमंडल में समायोजित करने के मुद्दे पर चर्चा की है।

सूत्रों का यह भी कहना है कि अनुप्रिया ने आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी की सीटों को बढ़ाने के मुद्दे पर भी बात की है। ताकि पिछड़ी जाति के समीकरण को और मजबूत किया जा सके। दरअसल मोदी के दूसरे कार्यकाल में अपना दल (एस) को अब तक प्रतिनिधित्व नहीं मिल पाया है। जबकि पिछली मोदी सरकार में अनुप्रिया को स्वास्थ्य जैसे अहम मंत्रालय में राज्यमंत्री बनाया गया था।

इसके अलावा पूरे प्रदेस में पंचायत चुनाव की स्थिति का आंकलन करें तो भाजपा के मुकाबले अपना दल का औसत बेहतर रहा है। मुलाकात में यह भी तय हुआ बताया जा रहा है कि फर्रूखाबाद, प्रतापगढ़, मिर्जापुर सहित प्रदेश के पाँच जिलों में भाजपा के बजाय अपना दल जिला पंचायत अध्यक्ष के रूप में अपना प्रत्याशी उतारेगी। वहीं भाजपा आगामी विधानसभा में अपनी बादशाहत कायम रखना चाहती है।

अपना दल (एस) के कार्यकारी अध्यक्ष आशीष पटेल कहते हैं कि पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने गृहमंत्री अमित शाह से शिष्टाचार मुलाकात की है। इसके पीछे कोई सियासी मकसद नहीं था। इन्होने कहा की बहुत दिनो से गृहमंत्री से मुलाकात नहीं हो पाई थी। लेकिन आसी, यह नहीं बता सके की योगी की मुलाकात वाले दिन ही ठीक इनसे पहले शाह से मुलाकात का क्या रहस्य है।

Next Story
Share it