Top
राष्ट्रीय

बीजेपी सांसद के बिगड़े बोल, कहा- आंदोलनकारी हैं फर्जी किसान, पैसे देकर आंदोलन के लिए लाया गया

Janjwar Desk
12 Jan 2021 5:01 AM GMT
बीजेपी सांसद के बिगड़े बोल, कहा- आंदोलनकारी हैं फर्जी किसान, पैसे देकर आंदोलन के लिए लाया गया
x
कोई राजनेता कह रहा है कि आंदोलनकारी चिकेन-बिरयानी खाकर बर्ड फ्लू फैला रहे हैं तो कोई कुछ और, इस बीच कर्नाटक से बीजेपी के सांसद ने कह दिया है कि आंदोलन कर रहे लोग फर्जी किसान हैं और इन्हें आंदोलन करने के लिए पैसे दिए जा रहे हैं..

जनज्वार। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में जहां किसान पिछले 48 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं, वहीं सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। वहीं किसान आंदोलन को लेकर खासकर केंद्र में सत्तारूढ़ दल बीजेपी के नेता विवादित बयान देने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

कोई राजनेता कह रहा है कि आंदोलनकारी चिकेन-बिरयानी खाकर बर्ड फ्लू फैला रहे हैं तो कोई कुछ और। इस बीच कर्नाटक से बीजेपी के एक सांसद ने कह दिया है कि आंदोलन कर रहे लोग फर्जी किसान हैं और इन्हें आंदोलन करने के लिए पैसे दिए जा रहे हैं।

बीजेपी के सांसद एस मुनीस्वामी ने आंदोलनरत किसानों को फर्जी बताते हुए आरोप लगाया है कि दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे किसानों को प्रदर्शन करने के लिए पैसे दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि ये इन लोगों को पैसे देकर आंदोलन करने के लिए लाया गया है।


कर्नाटक के कोलार से बीजेपी सांसद मुनीस्वामी इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा, 'ये बिचौलिए हैं और फर्जी किसान हैं। ये पिज्जा, बर्गर और केएफसी का खाना खा रहे हैं। इन्होंने वहां जिम बनाया है। यह नाटक बंद होना चाहिए।'

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले 48 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं। खासकर दिल्ली से लगी विभिन्न राज्यों की सीमाओं पर हजारों-लाखों की संख्या में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं।

उधर नए कृषि कानूनों और किसान आंदोलन को लेकर दायर याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। 11 जनवरी, सोमवार को सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा था कि हम नहीं समझते कि केंद्र ने इस मामले को सही तरीके से हैंडल किया है।

सोमवार की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक कमिटी बनाने की बात भी कही थी। साथ ही यह भी कहा था कि इस कानून के कार्यान्वयन पर अगले आदेश तक रोक लगाने की भी सोच रहे हैं। आज मंगलवार को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ सकता है।

वैसे मुनीस्वामी ऐसे पहले नेता नहीं हैं जिन्होंने किसानों को लेकर विवादित बयान दिया हो। इससे पहले राजस्थान के कोटा से बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने कहा था कि प्रदर्शनस्थल पर किसान जानबूझकर चिकन बिरयानी खा रहे हैं ताकि देश में बर्ड फ्लू फैल सके।

उधर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को सर्वोपरि बताते हुए कृषि मंत्री नरेन्द्र तोमर ने कहा है कि सरकार की कोशिश है कि आंदोलन जल्दी खत्म हो। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसान यूनियन के साथ बात कर रास्ता निकालने की कोशिश की है।

Next Story

विविध

Share it