राष्ट्रीय

तारापुर रैली में लालू की दहाड़, नाथूराम गोडसे के समर्थक हो गए हैं नीतीश कुमार

Janjwar Desk
27 Oct 2021 9:50 AM GMT
तारापुर रैली में लालू की दहाड़, नाथूराम गोडसे के समर्थक हो गए हैं नीतीश कुमार
x

मुंगेर जिले के तारापुर रैली में लोगों से नीतीश सरकार का विसर्जन करने की अपील करते लालू यादव।

बिहार में कहते हैं कि डबल इंजन की सरकार है। नीतीश कुमार स्टीम इंजन हैं और बीजेपी डीजल इंजन। दोनों एक-दूसरे को खींच रहे हैं।

नई दिल्ली। आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ( RJD Chief Lalu Prasad Yadav ) आज फिर पुराने तेवर में दिखे। उन्होंने छह साल बाद किसी सियास रैली को संबोधित किया। तारापुर रैली ( Tarapur Rally ) में पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में भारी संख्या में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए लालू यादव ( Lalu Yadav ) ने कहा कि सांप्रदायिक ताकतों के आगे हार नहीं मानी। एक दौर में नीतीश कुमार ( CM Nitish Kumar ) के साथ सियासी मंच शेयर करने वाले लालू यादव ने आज उन्हीं को दहाड़ते हुए कहा कि हमने कभी बीजेपी ( BJP ) से समझौता नहीं किया। बीजेपी के सहयोग से नीतीश कुमार ने बेइमानी की सरकार बनाई। अब नीतीश कुमार नाथूराम के गोडसे ( Nathuram Godse ) के समर्थक हो गए हैं।

हम जेल गए तो नीतीश पलटूराम हो गए

एक दौर था जब नीतीश कुमार कहा करते थे कि मिट्टी में मिल जाएंगे, लेकिन बीजेपी के साथ हाथ नहीं मिलाएंगे। हमने, उन्हें मुख्यमंत्री बनाया और पलटूराम बीजेपी के साथ चले गए। उन्होंने ने नीतीश को अहंकारी बताते हुए लालू ने कहा कि तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बुखार छुड़ा रखा है। वैसे तो अब हम आ गए हैं। तेजस्वी यादव को आपने जिताया। बिहार की जनता ने उसे मुख्यमंत्री बना दिया था, लेकिन नीतीश कुमार ने 8 सीट पर बेइमानी कर हमारे प्रत्याशी को हरा दिया। उस समय, मैं जेल में था। जेल से बाहर होता तो नीतीश बेइमानी से सरकार बनाने की हिम्मत नहीं कर पाते।

नीतीश स्टीम और बीजेपी डीजल इंजन

आरजेडी प्रमुख ने कहा कि बीजेपी के राज में रेल और जहाज के साथ सबकुछ बिक गया। मोदी ने कहा था कि सबको 15 लाख रुपए ये देंगे, सबने खाता खुलवा लिया था, पर किसी को कुछ नहीं मिला। बिहार में कहते हैं कि डबल इंजन की सरकार है। नीतीश कुमार स्टीम इंजन हैं और बीजेपी डीजल इंजन है। दोनों एक—दूसरे को खींच रहे हैं। बिहार में लोग रोजगार के लिए परेशान हैं। न तो लोगों को काम मिल रहा और न ही कोई विकास कार्य हो रहा।

जातिगत जनगणना के लिए सभी से संघर्ष की अपील की

मुंगेर जिले के तारापुर में उन्होंने लोगों से जातिगत जनगणना के समर्थन में लड़ाई छेड़ने अपील की। उन्होंने कहा कि दलित और ओबीसी की संख्या बढ़ी है। जनगणना होगी तो आरक्षण भी बढ़ जाएगा। जातिगत जनगणना की लड़ाई हर हाल में छेड़नी होगी। देश में जब सभी जानवरों की गितनी हो सकती है तो इंसान के जातियों की गितनी क्यों नहीं हो सकती।

नीतीश से पूछिए - जनता को देख भड़कते क्यों हैं?

लालू यादव ने कहा कि लाल कपड़ा देख जैसे सांड भड़कता है, वैसे ही जनता को देख कर नीतीश भड़कते हैं। हमने आडवाणी को गिरफ्तार किया। हमने कभी संप्रदायिकता से समझौता नहीं किया। लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार आरएसएस की गोद में खेल रहे हैं। तेजस्वी यादव ने कचूमर निकल दिया है। हम विसर्जन कर देंगे। नीतीश कुमार की हमने कई बार मदद की, लेकिन वो किसी के नहीं हैं। नीतीश पलटू राम हैं। उन्होंने कहा कि आज मैं, बिहार की जनता को प्रणाम करने आया हूं।

Next Story

विविध