राष्ट्रीय

Bihar News : PFI के लिए ट्रेनिंग देने वाले 2 आतंकवादी गिरफ्तार, भारत को 2047 में मुस्लिम राष्ट्र घोषित करने की चल रही थी तैयारी

Janjwar Desk
14 July 2022 6:15 AM GMT
Patna News : फुलवारी शरीफ को कब्रगाह बनाने में जुटी BJP, रिटायर्ड दरोगा जलालुद्दीन को आतंकवादी बताने पर भाकपा माले का आरोप
x

Patna News : फुलवारी शरीफ को कब्रगाह बनाने में जुटी BJP, रिटायर्ड दरोगा जलालुद्दीन को आतंकवादी बताने पर भाकपा माले का आरोप

Bihar News : भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की तैयारी बिहार की राजधानी पटना में की जा रही थी, इसका पूरा रोडमैप तैयार कर लिया गया था, लोगों की भर्तियां की जा रही थी...

Bihar News : भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की तैयारी बिहार की राजधानी पटना में की जा रही थी। इसका पूरा रोडमैप तैयार कर लिया गया था। लोगों की भर्तियां की जा रही थी। जिन लोगों को संगठन में शमिल किया गया था, उनकी पटना में ट्रेनिंग चल रही थी। उनको शारीरिक और मानसिक तौर पर तैयार किया जा रहा था। मार्शल आर्ट की भी ट्रेनिंग दी जा रही थी ताकि किसी हालात से निपटने के लिए मानसिक और शारीरिक तौर पर तैयार रहें। इसका खुलासा फुलवारी शरीफ के एएसपी मनीष कुमार सिन्हा ने किया है।

पटना से 2 आतंकवादी गिरफ्तार

बिहार की राजधानी पटना से दो कथित आतंकवादियों मोहम्मद जलालुद्दीन और अतहर परवेज को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के अनुसार ये लोग देश विरोधी गतिविधि में शामिल थे। एक समुदाय विशेष के लोगों को आतंकी ट्रेनिंग दे रहे थे। प्रतिबंधित संगठन सिमी के सदस्य अहमद प्रवेश इसमें शामिल था। साथ ही गांधी मैदान ब्लास्ट कांड के आरोपी का सगा भाई भी ट्रेनिंग देने का काम करता था। इसका खर्च पाकिस्तान, बांग्लादेश और केरल समेत दूसरे जगहों से आती थी। पुलिस के मुताबिक उसके पास सीसीटीवी फुटेज के अलावा टेक्निकल सबूत मौजूद है।

PFI और SDPI के दोनों है सक्रिय सदस्य

फुलवारी शरीफ में एएसपी मनीष कुमार सिन्हा ने बताया की आईबी की सुचना के आधार पर 11 जुलाई को नया टोला नहर स्थित अहमद पैलेस में मोहम्मद जलालुद्दीन के मकान में छापेमारी की गई, जो झारखंड पुलिस का रिटायर सब इंस्पेक्टर है। इसके अलावा फुलवारी शरीफ के गुलिस्तान मोहल्ला के रहनेवाले अतहर परवेज के यहां पुलिस ने दबिश दी, जो प्रतिबंधित संगठन सिमी का पूर्व सदस्य भी है। अतहर परवेज, सिमी के अभियुक्तों का बेल कराते रहा है। फिलहाल पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के सक्रिय सदस्य है। संगठन की आड़ में ये दोनों मोहम्मद जलालुद्दीन और अतहर परवेज देश विरोधी बैठक करते थे। इसमें स्थानीय, जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर के PFI/SDPI के सक्रिय सदस्य भाग लेते रहे हैं। इन बैठकों में सांप्रदायिकता और देश विरोधी जहर उपस्थित लोगों के दिमाग में भरने का काम किया जाता था।

इस्लामिक देश बनाने के लिए PFI का मिशन 2047

पटना पुलिस के नए खुलासे के अनुसार 6 और 7 जुलाई को जलालुद्दीन के माकन में स्थित PFI कार्यालय में मार्शल आर्ट (शारीरिक शिक्षा) के नाम पर साजिश रची गई थी। देश विरोधी अस्त्र/शस्त्र की ट्रेनिंग देने, धार्मिक उन्माद फैलाने और आतंकवादी गतिविधि करने की बात सामने आई है। काफी गोपनीय ढंग से ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया था। इसमें शामिल लोगों को निर्देश दिया गया कि वे अपने-अपने क्षेत्र में जाकर अधिक से अधिक लोगों को प्रशिक्षित, प्रेरित और उन्मादित करें। इसमें बिहार के अलावा कई राज्यों के चरमपंथी और सांप्रदायिक लोग शामिल हुए थे। खुफिया विभाग से मिले इनपुट के आधार पर पटना पुलिस ने छापामारी की। यहां से पीएफआई का झंडा, पम्पलेट, बुकलेट और गुप्त दस्तावेज मिले। इनमें 2047 तक भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने का रोडमैप भी मिला। मुहिम चलाने से संबंधित दस्तावेज मिशन-2047 बरामद किया गया। अब पुलिस इनके आगे की लिंक खंगाल रही है।

Next Story

विविध