Top
बिहार

पति-पत्नी और दो बच्चों के शव घर में सड़ी-गली हालत में मिले, परिजन कह रहे की गई है हत्या

Janjwar Desk
5 Oct 2020 2:42 PM GMT
पति-पत्नी और दो बच्चों के शव घर में  सड़ी-गली हालत में मिले, परिजन कह रहे की गई है हत्या
x

घटनास्थल पर विलाप करते परिजन

घटना स्थल पर पहुंचे नालंदा के पुलिस अधीक्षक निलेश कुमार ने कहा 'प्रथम दृष्टया हत्या का मामला दिख रहा है, लेकिन हत्या किसी बाहरी लोगों ने की या फिर खुद पति ने पत्नी और बच्चों की हत्या के बाद खुद आत्महत्या तो नहीं कर ली, यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद हीं यह स्पष्ट हो सकेगा, फिलहाल एफएसएल की टीम बुलायी गयी है...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। बिहारशरीफ के दीपनगर थाना क्षेत्र के सर्वोदय नगर मोहल्ले में 5 अक्टूबर, सोमवार की शाम एक मकान के बंद कमरे से पति, पत्नी और दो बच्चे की लाश मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी है। कमरा बाहर से बंद था। ऐसे में आशंका यह जतायी जा रही है कि चारों की हत्या कर दी गयी, लेकिन यह भी अनुमान लगाया जा रहा है कि पत्नी और दो बच्चों की हत्या करने के बाद पति ने खुद हीं खुदखुशी की होगी। हालांकि अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है कि मौत की वजह क्या है। पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन कर रही है।

घटना स्थल पर पहुंचे नालंदा के पुलिस अधीक्षक निलेश कुमार ने कहा 'प्रथम दृष्टया हत्या का मामला दिख रहा है, लेकिन हत्या किसी बाहरी लोगों ने की या फिर खुद पति ने पत्नी और बच्चों की हत्या के बाद खुद आत्महत्या तो नहीं कर ली, यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद हीं यह स्पष्ट हो सकेगा। फिलहाल एफएसएल की टीम बुलायी गयी है, जो अनुसंधान करेगी और मौत के कारणों की जानकारी लेगी। पुलिस हर बिंदु पर निगाह रखकर अनुसंधान कर रही है।'

उधर जैसे हीं यह खबर फैली कि परिवार के चार लोगों का लाश घर के ऊपर के कमरे में बंद है, सैकड़ों की संख्या में लोग इकट्ठे हो गये और फिर जितनी मुंह उतनी बात होने लगी। कोई इसे हत्या बता रहा था तो कोई आत्महत्या, लेकिन हकीकत तो यह है कि अभी तक सभी चर्चा अंधेरे में है। खबर लिखने तक तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि मामला क्या है।

मृतकों की पहचान रवि कुमार (38 वर्ष), पिता-राजेंद्र पासवान, नेहा कुमारी (32 वर्ष), पति-रवि कुमार, आहान कुमार (8 वर्ष), पिता-रवि कुमार, जेनी कुमारी (12 वर्ष), पिता-रवि कुमार के रूप में की गयी। जिस कमरे में शव था जब उसे खोला गया तो शव में पूरी तरह बदबू आ रही थी और लाशें सड़ी गली हालत में थी। ऐसे में यह संभावना व्यक्त की जा रही है कि कम से कम तीन-चार दिन पूर्व हत्या या आत्महत्या की गयी है।

इधर दूसरी ओर मृतक रवि कुमार के पिता राजेंद्र पासवान, जो नूरसराय के चंडासी गांव के रहने वाले हैं, उनका कहना है कि उनके पुत्र, पुत्रवधू और पोते-पोतियों की हत्या की गयी है। बहरहाल मामले की जांच चल रही है।

बताया जाता है कि मृतक रवि कुमार किराने की दुकान चलाता था, जबकि उसकी पत्नी नेहा कुमारी परबलपुर में शिक्षिका थी। ऐसे में यह तो स्पष्ट है कि मृतक के पास आर्थिक संकट की कोई बात नहीं थी। ऐसे में आर्थिक कारणों से आत्महत्या से स्थानीय लोग इंकार कर रहे हैं।

स्थानीय लोगों का कहना है कि जिस कमरे में शव था, वह कमरा बाहर से बन्द था। ऐसे में आत्महत्या से इसे जोड़कर नहीं देखा जा सकता। आशंका यह भी जतायी जा रही है कि किसी रंजिश को लेकर परिवार के सभी सदस्यों की हत्या की गयी और फिर घर को बाहर से लॉक किया गया। बहरहाल इस मामले में कुछ कहना जल्दबाजी होगी। अनुसंधान के बाद हीं यह स्पष्ट हो सकेगा कि घटना की वजह क्या है। प्रथम दृष्टया शव के पास खून भी पाया गया है।

Next Story

विविध

Share it