Top
बिहार चुनाव 2020

भूख से बिलबिला रहे बाढ़ पीड़ितों की जब नहीं हुई सुनवाई तो भिड़ गये पुलिसवालों से

Janjwar Desk
6 Aug 2020 3:14 PM GMT
भूख से बिलबिला रहे बाढ़ पीड़ितों की जब नहीं हुई सुनवाई तो भिड़ गये पुलिसवालों से
x
भूख से बिलबिला रहे बाढ़ पीड़ितों की जब नहीं हुई सुनवाई तो भिड़ गये पुलिसवालों से, पीड़ितों ने कहा सुबह से रात तक नहीं मिला था खाना

जनज्वार ब्यूरो, पटना। बिहार में बाढ़ पीड़ितों की नाराजगी बढ़ती जा रही है। सरकारी राहत की आस लगाए बैठे इन बाढ़ पीड़ितों की हालत खराब हो रही है, ऐसे में सरकारी सहायता न मिलने से ये उग्र हो जा रहे हैं। मुजफ्फरपुर में सुबह से खाना न मिलने से आक्रोशित भीड़ ने सड़क जाम कर दिया और जाम हटाने गई पुलिस टीम पर हमला कर दिया।

राज्य के मुजफ्फरपुर जिला के गायघाट में बाढ़ पीड़ितों ने NH-77 को घंटों जाम कर दिया था। वहीं मुजफ्फरपुर के ही सकरा प्रखंड के विष्णुपुर बघनगरी गांव के बाढ़ विस्थापितों ने सड़क जाम हटाने गई स्थानीय पुलिस पर हमला बोल दिया।

आक्रोशितों की भीड़ ने तोड़फोड़ करते हुए न सिर्फ दो पुलिस वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया, बल्कि उनके हमले में थानाध्यक्ष, एक सैप जवान और दो होमगार्ड के जवान भी घायल हो गए।

घटनाक्रम से एनएच-28 पर अफरातफरी की स्थिति बनी रही। शाम का भोजन न मिलने से नाराज विस्थापितों ने सड़क जाम किया था। स्थिति अनियंत्रित होने पर सकरा पुलिस गाड़ी छोड़कर पीछे हट गई। सिर फटने से घायल थानाध्यक्ष रामनाथ प्रसाद समेत सैप जवान रामजी सिंह, होमगार्ड जवान मो. बच्चे और दीपलाल बैठा को सकरा अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सकरा थाना पुलिस को एनएच-28 जाम होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद थानाध्यक्ष मौके पर पहुंचे थे। बाढ़ पीड़ितों का आरोप था कि सुबह से इतना रात हो गया, अब तक प्रशासन द्वारा भोजन-पानी मुहैया नहीं कराया गया है। धीरे-धीरे बात बढ़ती गई और लोग उग्र हो गए और पुलिस टीम पर हमला कर दिया। इसके बाद सकरा पुलिस टीम द्वारा लाठीचार्ज कर दिया गया जिसके बाद बात और बिगड़ गई।

आक्रोशित भीड़ द्वारा पुलिस के दो वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। इस दौरान थानाध्यक्ष, एक सैप का जवान और दो होमगार्ड के जवान घायल हो गए। घटना की सूचना मिलने के बाद जिले से अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया।

साथ ही वरीय अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंची और समझाकर बाढ़ पीड़ितों को शांत किया और उन्हें सूखा भोजन उपलब्ध कराया, जिसके बाद बाढ़ पीड़ित माने। घायल थानाध्यक्ष और पुलिसकर्मियों को सकरा पीएचसी से प्राथमिक उपचार के बाद एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया, जहां उनका इलाज जारी है ।

Next Story

विविध

Share it