Top
बिहार

बीजेपी नेता के कोरोना को मात देने की खुशी में समर्थकों ने ढोल-नगाड़े और आतिशबाजी के साथ निकाल दी जुलूस, हुई FIR

Janjwar Desk
21 July 2020 6:41 AM GMT
बीजेपी नेता के कोरोना को मात देने की खुशी में समर्थकों ने ढोल-नगाड़े और आतिशबाजी के साथ निकाल दी जुलूस, हुई FIR
x
नेताजी ठीक होकर घर पहुंचे थे। समर्थकों ने ढोल-नगाड़े, आतिशबाजी की। जुलूस में तीन संक्रमित, जो होम कवरन्टीन थे, वे भी शामिल हो गए!

पटना। कोरोना को मात देने की इतनी खुशी हुई कि बीजेपी नेता के समर्थकों ने उनके एंबुलेंस के पास भीड़ लगाकर न सिर्फ पटाखे फोड़े, बल्कि ढोल-नगाड़े भी बजाए। नेताजी भी खुश होकर एंबुलेंस से उतरे और हाथ हिलाकर सबका अभिनन्दन किया। स्वागत जुलूस में वैसे लोग भी थे, जो खुद पॉजिटिव होकर होम कवरन्टीन थे। उनके समर्थकों में से ही किसी ने इस पूरे कार्यक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया और अब FIR दर्ज करा दी गई है।

महादलित प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष सुनील राम विगत 9 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। रिपोर्ट में गंभीर वायरल लोड पाए जाने के कारण उन्हें पटना रेफर कर दिया गया। वहां इलाज हुआ। इलाज के बाद रिपोर्ट जब नेगेटिव आई तो डॉक्टरों ने उन्हें होम कवरन्टीन की सलाह देते हुए घर भेज दिया।

नेताजी बेगूसराय जिला के तेघड़ा प्रखंड के खिदिरचक गांव एंबुलेंस से आए। गांव पहुचने पर दर्जनों समर्थक एंबुलेंस के पास पहुंच गए और वहां भीड़ लग गई। समर्थकों ने ढोल-नगाड़े और पटाखों का भी इंतजाम किया था। ढोल-नगाड़े बजे, पटाखे फोड़े गए और नेताजी की खूब जय-जयकार हुई। नेताजी गदगद हुए और एंबुलेंस से बाहर आकर सबका अभिवादन किया।

इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। बताया जाता है कि नेताजी के इस जुलूस में तीन अन्य संक्रमित, जो होम कवरन्टीन थे, वह भी शामिल थे। उस पूरे इलाके को कण्टेन्मेंट ज़ोन घोषित करते हुए सील किया गया है। आरोप है कि इस स्वागत समारोह में समर्थकों ने बांस-बल्ले भी हटा दिए।

बताया जाता है कि नेताजी 8 जुलाई को पटना में बीजेपी की बैठक में भी शामिल हुए थे, जबकि उनकी तबियत पहले से ही खराब थी। उस बैठक के बाद बीजेपी प्रदेश कार्यालय से लेकर बेगूसराय तक कई दर्जन नेता, कार्यकर्ता और बीजेपी कार्यालय के कर्मी पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद हड़कंप मच गया था। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल भी पॉजिटिव हो गए थे।

वीडियो वायरल होने के बाद तेघड़ा के एसडीओ निशांत ने इसकी जांच का आदेश दिया। इसके बाद तेघड़ा थाने में एक FIR दर्ज की गई है। थानाध्यक्ष हिमांशु कुमार ने मीडिया को बताया कि उस स्वागत समारोह में शामिल सुनील राम सहित 15 लोगों को नामजद तथा 25 अज्ञात लोगों के विरुद्ध FIR दर्ज कर ली गई है। जुलूस में तीन संक्रमित व्यक्ति भी उनके साथ थे। जुलूस में शामिल लोगों ने बांस-बल्ले से की गई घेराबंदी को भी हटा दिया था।

Next Story

विविध

Share it