राष्ट्रीय

Gayghat Shelter Home Case: गायघाट शेल्टर होम कांड की तफ्तीश में आयी तेजी, 7 फरवरी को जिम्मेदारों की पेशी

Janjwar Desk
4 Feb 2022 4:14 PM GMT
bihar news
x

(पटना महिला आश्रय गृह मामले में बिहार में तपिश)

Gayghat Shelter Home Case: हाइकोर्ट की सम्बंधित पीठ ने इस मामले को लेकर निदेशक व अन्य जिम्मेदारों को जवाब सहित आगामी 07 फरवरी को तलब भी किया है....

Gayghat Shelter Home Case: पटना के गायघाट शेल्टर होम के सामने आए वीडियो के बाद पूरे बिहार में बवाल मचा हुआ है। इस मामले में 03 फरवरी गुरुवार को अदालत ने स्वतः संज्ञान लिया था। कांड में खुलासे के बाद एफआईआर (FIR) दर्ज न होने के लिए हाइकोर्ट ने गंभीर सवाल उठाए थे। पटना हाईकोर्ट ने इस मुद्दे पर समाज कल्याण विभाग के डायरेक्टर को सिर्फ सीसीटीवी कैमरे देखकर ही लड़की के आरोपों को नकारने पर फटकार लगायी भी लगाई थी। साथ ही इस मामले में संबंधित विभागों को नोटिस जारी कर जवाब भी मांगा है।

इनपुट है कि इस मामले (Gayghat Shelter Home Case) की तफ्तीश में अदालती फटकार के बाद अब तेजी आयी है। निदेशक सक्रिय हो चुके हैं। महिला मंच की पदाधिकारी अरुणिमा सिंह (Arunima Singh) ने जनज्वार से बात करते हुए इस बात की तस्दीक भी की है। अरुणिमा ने बताया कि आज इस मामले में कुछ पूछताछ और बयान दर्ज किए गए हैं। निदेशक और दो लेडीज ऑफिसर्स ने जाकर उनका बयान लिया है। इसके अलावा हाइकोर्ट की सम्बंधित पीठ ने इस मामले को लेकर निदेशक व अन्य जिम्मेदारों को जवाब सहित आगामी 07 फरवरी को तलब भी किया है।

क्या है पटना शेल्टर होम सेक्स कांड?

बिहार के चर्चित मुजफ्फरपुर आश्रय गृह कांड की तर्ज पर अब पटना के गायघाट उत्तर रक्षा गृह से जुड़ा यौन उत्पीड़न का नया मामला सामने आया है। यह मामला सामने आने के बाद से बिहार की राजनीति में सियासी बवाल मच गया है। गायघाट आश्रय गृह की एक पीड़ित लड़की का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें वह इस आश्रय गृह से लड़कियों की सप्लाई का आरोप लगा रही है।

लड़की ने लगाए थे गंभीर आरोप

पटना गायघाट स्थित उत्तर रक्षा गृह से निकल भागी एक लड़की ने आश्रय गृह की अधीक्षक पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़ित लड़की का कहना है कि यहां रह रही लड़कियों को नशे का इंजेक्शन देकर अनैतिक कार्यों में धकेला जाता है। जो लड़की इसमें साथ नहीं देती उसे प्रताड़ित किया जाता है और खाना तक नहीं दिया जाता है। इस लड़की को लेकर एक संस्था के कुछ लोग पुलिस थाने पहुंचे। पटना के महिला थाना में लड़की की शिकायत की गई है। हालांकि मामले में अभी केस दर्ज नहीं किया गया है।

बिहार में गरमा रही राजनीति

आज इस मामले में बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी (Rabri Devi) खुलकर सामने आ गईं हैं। उन्होंने नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। राबड़ी देवी ने गायघाट रिमांड होम सेक्स स्कैंडल के लिए बिहार सरकार को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इस तरह की अमानवीय घटना पूरी मशीनरी की विफलता का प्रतीक है। जनता चुप नहीं बैठेगी।

उन्होंने कहा कि यह सब सरकार की निगरानी यानि संरक्षण में में हो रहा है। बिहार के लोग देख रहे हैं कि राज्य में सरकार कैसे काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पटना हाईकोर्ट ने भी इस मुद्दे पर सरकार की खिचाई की है। उन्होंने कहा कि बिहार के लोग नीतीश सरकार को इस कुकृत्व के लिए कभी माफ नहीं करेंगे।

इससे पहले वीडियो वायरल होने के बाद मामले को लेकर जन अधिकारी पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव ने कोर्ट जाने की चेतावनी दी थी। बिहार की राजनीति का बड़ा चेहरा कहे जाने वाले तेजस्वी यादव भी इस बड़े मामले में नीतीश सरकार पर निशाना साध चुके हैं। उन्होंने कहा था कि मुजफ्फरपुर कांड वाले मोटी तोंद वाले नीतीश के संरक्षण में आजाद घूम रहे हैं। इसके अलावा पूर्व आईपीएस अमिताभ दास ने भी राज्यपाल को पत्र लिखकर जांच की मांग की है।

Next Story

विविध