Top
बिहार

गुलनाज कांड: इंसाफ की मांग को लेकर कई संगठन 23 को पटना में करेंगे प्रदर्शन

Janjwar Desk
21 Nov 2020 2:48 PM GMT
गुलनाज कांड: इंसाफ की मांग को लेकर कई संगठन 23 को पटना में करेंगे प्रदर्शन
x

File photo

बिहार महिला समाज, नागरिक अधिकार मंच, एएसडब्ल्यूएफ, ऐपवा, एडवा, मुस्लिम महिला मंच, बिहार, मेरी पंचायत-मेरी शक्ति और एनएपीएम नामक सँगठनों ने पटना के कारगिल चौक पर 23 नवंबर को प्रदर्शन करने की घोषणा की है...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। वैशाली जिले के गुलनाज कांड को लेकर कई संगठनों ने राजधानी पटना में विरोध प्रदर्शन करने की घोषणा की है। बिहार महिला समाज, नागरिक अधिकार मंच, एएसडब्ल्यूएफ, ऐपवा, एडवा, मुस्लिम महिला मंच, बिहार, मेरी पंचायत-मेरी शक्ति और एनएपीएम नामक सँगठनों ने पटना के कारगिल चौक पर 23 नवंबर को प्रदर्शन करने की घोषणा की है।

इन संगठनों का कहना है कि वैशाली की उस भयानक घटना के विरुद्ध 23 नवंबर को प्रदर्शन किया जाएगा। इस प्रदर्शन में गुलनाज के परिवार को न्याय दिलाने की मांग की जाएगी। साथ ही नीतीश सरकार से सवाल पूछा जाएगा कि वैशाली की बेटी जिंदा क्यों जली?

वैशाली जिले के देसरी थाना क्षेत्र के चांदपुरा ओपी अंतर्गत रसूलपुर हबीब गांव में गुलनाज नामक युवती को जिंदा जलाकर मार देने को लेकर बीते 2 नवंबर को स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार आरोप है कि विगत 30 अक्टूबर की देर शाम को गुलनाज को गांव के ही तीन लोगों ने केरोसिन डालकर जिंदा जला दिया था। घायल अवस्था में उसे हाजीपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां उसकी स्थिति गंभीर होने के बाद उसे पटना के पीएमसीएच रेफर कर दिया गया था।

घटना के बाद गुलनाज के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे, जिसमें वह आपबीती बता रही थी। बताया जाता है कि प्रकरण की जांच के लिए जब एसडीपीओ महानार घटनास्थल पर गए तो उन्हें वहां परिजन नहीं मिले थे। इसके बाद 2 नवंबर को चंदपुरा थाने में मामला दर्ज किया गया। उधर 14 -15 नवंबर की रात इलाज के क्रम में गुलनाज की PMCH में मौत गई। इसके बाद परिजनों ने इंसाफ की मांग को लेकर शव के साथ प्रदर्शन किया था।

इसके बाद 15 नवंबर को शव का अंतिम संस्कार किया गया था। उधर घटना को लेकर शिथिलता बरतने और 17 दिन बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने के आरोप में चंदपुरा थाने के एसएचओ को निलंबित कर दिया गया है। 17 नवंबर को मामले के मुख्य आरोपी सतीश और एक अन्य की गिरफ्तारी हुई है।

Next Story

विविध

Share it