Top
बिहार

राज्यसभा उपचुनाव में राजद का दलित चेहरे पर दांव, श्याम रजक हो सकते हैं सुशील मोदी के विरुद्ध उम्मीदवार

Janjwar Desk
1 Dec 2020 6:40 AM GMT
राज्यसभा उपचुनाव में राजद का दलित चेहरे पर दांव, श्याम रजक हो सकते हैं सुशील मोदी के विरुद्ध उम्मीदवार
x

File photo

राज्य के राजनीतिक हलकों में हाल में यह चर्चा चलने लगी थी कि राजद की ओर से स्वर्गीय रामविलास पासवान की पत्नी व लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान की मां को उम्मीदवार बनाने पर मंथन चल रहा है...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक रामविलास पासवान के निधन से खाली हुई राज्यसभा की सीट के लिए बीजेपी की ओर से बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को उम्मीदवार बनाया गया है। पिछली बार लोजपा कोटे की रही इस सीट से बीजेपी ने इस बार लोजपा का पत्ता काट दिया है, वहीं राजद ने भी अपना उम्मीदवार देने का मन बना लिया है।

राज्य के राजनीतिक हलकों में हाल में यह चर्चा चलने लगी थी कि राजद की ओर से स्वर्गीय रामविलास पासवान की पत्नी व लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान की मां को उम्मीदवार बनाने पर मंथन चल रहा है।

हालांकि बाद में इस चर्चा पर तब विराम लग गया, जब चिराग पासवान ने स्पष्ट रूप से कह दिया कि सीट बीजेपी कोटे की थी और वह जिसे चाहे राज्यसभा भेज सकती है। उन्होंने पार्टी की ओर से किसी को उम्मीदवार बनाए जाने से भी इंकार कर दिया था।

राज्यसभा की इस सीट के लिए राजद की ओर से उम्मीदवार के नाम पर लगातार मंथन चल रहा है। राजद सूत्रों के अनुसार खुद लालू यादव इसपर मंथन कर रहे हैं। अब राजद की ओर से जो खबर निकल कर सामने आ रही है, उसपर भरोसा करें तो पार्टी पूर्व मंत्री श्याम रजक को इस सीट से अपना उम्मीदवार बना सकती है।

राजद इस सीट से श्याम रजक को उम्मीदवार बना कर एक तीर से कई निशाने साध सकता है। रामविलास पासवान के निधन से खाली हुई इस सीट पर बीजेपी की ओर से किसी दलित चेहरे को उम्मीदवार नहीं बनाए जाने का मुद्दा राजद जोरशोर से उठा सकता है। साथ ही अपनी ओर से दलित चेहरे को प्रत्याशी बनाए जाने की बात कर बीजेपी को घेर सकता है।

श्याम रजक पहले जेडीयू में थे और नीतीश कैबिनेट में मंत्री थे। वे बिहार विधानसभा चुनावों के ठीक पहले जदयू छोड़कर राजद में शामिल हुए थे। वे पटना के फुलवारीशरीफ सुरक्षित विधानसभा सीट से विधायक थे। हालांकि विधानसभा चुनावों में उन्हें टिकट नहीं मिल सका था, चूंकि फुलवारीशरीफ सुरक्षित विधानसभा सीट महागठबंधन में सीपीआई माले के खाते में चली गई थी और इस सीट से माले ने जीत भी दर्ज की है।

राज्यसभा के इस उपचुनाव के पटना के प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल को निर्वाची पदाधिकारी एवं निदेशक, बिहार विधानसभा भूदेव राय को सहायक निर्वाची पदाधिकारी नामित किया है। इसके साथ ही दो अन्य पदाधिकारी भी सहायक निर्वाची पदाधिकारी के रूप में नामित किए गए है।

राज्यसभा की इस एक सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए उप निदेशक, खाद्य, पटना प्रमंडल धीरेंद्र झा और अपर समाहर्ता, राजस्व, पटना राजीव श्रीवास्तव को सहायक निर्वाची पदाधिकारी, नामित किया गया है। इस प्रकार तीन पदाधिकारी सहायक निर्वाची पदाधिकारी के रूप में रहेंगे।

उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार बैजुनाथ सिंह ने बताया कि प्रमंडलीय आयुक्त का कार्यालय नामांकन स्थल और बिहार विधानसभा की लाइब्रेरी के रीडिंग रूम को मतदान केंद्र स्थल बनाया गया है। चुनाव में विधानसभा के निर्वाचित सदस्य भाग लेंगे।

Next Story

विविध

Share it