बिहार

हत्या के आरोपी हैं नीतीश कुमार राष्ट्रपति कैसे बन जाएंगे, पत्रकारों के सवाल पर तेज प्रताप का तंज

Janjwar Desk
23 Feb 2022 5:13 AM GMT
bihar news
x

(मर्डर के आरोपी हैं नीतीश कुमार-तेज प्रताप)

Bihar News: वो कैसे राष्ट्रपति (President) बन जाएंगे। अच्छा लगेगा एक हत्यारा राष्ट्रपति बने। उसे तो खुले आसमान के नीचे खुले तक में नहीं घूमना चाहिए...

Bihar News: पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के पुत्र तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने सीएम नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि वे हत्या के आरोपी हैं, राष्ट्रपति कैसे बन सकते हैं। दरअसल वह पत्रकारों को उस सवाल का जवाब दे रहे थे जिसमें यह हवा चल रही की नीतीश कुमार को राष्ट्रपति पद का दावेदार माना जा रहा है।

तेज प्रताप यादव ने कहा कि वे क्या हो सकते हैं क्याै नहीं हो सकते वह बाद की बात है पहले बिहार को ठीक करदें। बिहार बेरोजगार है पहले उसे सुधारें। बाद में बनते रहे राष्ट्रपति। नीतीश कुमार ने सीताराम सिंह की हत्या की थी। वो कैसे राष्ट्रपति (President) बन जाएंगे। अच्छा लगेगा एक हत्यारा राष्ट्रपति बने। उसे तो खुले आसमान के नीचे खुले तक में नहीं घूमना चाहिए।

उन्होने इस मुद्दे को आने वाले विधानसभा सेशन में उठाने की बात भी कही। उन्होने कहा कि नीतीश कुमार खुद घोटाले कर रहे हैं। यूपी सरकार पर तंज कसते हुए तेज प्रताप ने कहा कि यूपी में भाजपा सरकार जा रही है। नीरज कुमार के लिए कहा कि उनके भी दिन आ रहे हैं। जल्द ही वह जेल की सलाखों में होंगे।

राष्ट्रपति पद (President Post) की उम्मीदवारी पर विपक्ष की साझा उम्मीदवार पर चर्चा पिछले 24 घंटे से जारी है। इसके पीछे तथाकथित राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर और केसीआर का दिमाग माना जा रहा है। इससे पहलेू जेडीयू (JDU) कोटे से बिहार सरकार में मंत्री बने श्रवण कुमार से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राष्ट्रपति मटेरियल तो हैं ही। इसमें कहीं कोई दो राय नहीं है।

मुख्यमंत्री को केवल हम या पूरा बिहार नहीं बल्कि उनको पूरा देश जानता है। उनकी सोच राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की है। सीएम नीतीश कुमार को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाना सही होगा।

बता दें कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने महाराष्ट्र का दौरा किया था। इस दौरान केसीआर महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी मिले थे। इसके बाद शिवसेना के सूत्रों ने बड़ी खबर आई कि केसीआर और उद्धव ठाकरे की मुलाकात के दौरान राष्ट्रपति पद को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। राष्ट्रपति पद उम्मीदवारी पर कोई चर्चा नहीं हुई तो ऐसे में इस मुलाकात के दौरान नीतीश कुमार के नाम पर चर्चा का सवाल ही नहीं उठाता है।

प्रशांत किशोर के हवाले से ये खबर आई थी कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने विपक्ष के साझा उम्मीदवार के तौर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाम पर सहमति बनाने की मुहिम शुरू की है, लेकिन शिवसेना ने इस पूरे मामले को और नीतीश कुमार की उम्मीदवारी को सिरे से खारिज कर दिया है। जबकि प्रशांत किशोर के हवाले से ये खबर आई थी कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री KCR ने विपक्ष के साझा उम्मीदवार के तौर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाम पर सहमति बनाने की मुहिम शुरू की है।

Next Story

विविध