Top
बिहार

15 सालों के लालू-राबड़ी शासन में हुई 'भूल' के लिए तेजस्वी यादव ने मांगी माफी

Janjwar Desk
3 July 2020 2:30 AM GMT
15 सालों के लालू-राबड़ी शासन में हुई भूल के लिए तेजस्वी यादव ने मांगी माफी
x
राजद नेता तेजस्वी यादव ने अबतक का सबसे बड़ा राजनीतिक बयान दिया है। नीतीश कुमार के पहले 15 साल के लालू-राबड़ी सरकार की आलोचना उनके विरोधी विकास नहीं होने के लिए करते हैं, ऐसे में तेजस्वी का यह बयान अहम है...

जनज्वार। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की सरगरमी तेज होती जा रही है। इस बीच राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार (2 July 2020) को बड़ा राजनीतिक बयान दिया। न्यूज एजेंसी एएनआइ के अनुसार, तेजस्वी यादव ने कहा है कि ठीक है 15 साल हमलोग सत्ता में रहे। पर हम तब सरकार में नहीं थे, हम छोटे थे। पर इससे कोई इनकार नहीं कर सकता कि लालू जी ने सामाजिक न्याय नहीं किया। उन 15 सालों में हमसे कोई भूल हुई है तो हम उसके लिए भी माफी मांगते हैं।

तेजस्वी यादव के इस बयान को उनका हाल के महीनों व एन बिहार चुनाव से पहले का अहम राजनीतिक बयान माना जा सकता है। तेजस्वी यादव राजद की ओर से घोषित रूप से प्रमुख चेहरे हैं। चारा घोटाला मामले में पिता लालू प्रसाद यादव के जेल में होने के कारण पार्टी का संचालन वही करते हैं और विधानसभा में विपक्ष के नेता भी हैं और उपमुख्यमंत्री भी रहे हैं।

तेजस्वी राजद के मुख्यमंत्री चेहरा हैं, हालांकि वे और उनकी पार्टी यह प्रयास कर रही है कि सभी विपक्षी दल उन्हें मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित कर दें। कांग्रेस, उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और जीतन राम मांझी की हिंदुस्तान अवाम मोर्चा ने इस पर अबतक सहमति नहीं दी है। उधर, एनडीए की ओर से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री पद के फिर से दावेदार हैं।

तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू जी ने कभी भी सामाजिक न्याय और देश के नाम पर समझौता नहीं किया। उन्होंने पिछड़े और गरीब वर्ग से आए लोगों को प्रतिनिधित्व का मौका दिया। तेजस्वी ने कहा कि हमारी पार्टी सबके लिए है। हम सभी को सम्मान देंगे और जात-पात से ऊपर उठकर काम करेंगे।

नीतीश सरकार पर बोला हमला

गुरुवार को पार्टी कार्यालय में तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार में भ्रष्टचार की बोलबाला है। तेजस्वी यादव ने कहा कि लोग एक मौका दें, वे राज्य में विकास की गंगा बहा देंगे। उन्होंने कहा कि राजद सभी जाति व धर्म के लोगों को विधानसभा में भेजेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण मजदूरों को सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल कर आना पड़ा। उन्होंने बेरोजगारी पर भी बात की। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब लोग परेशान हैं तो भाजपा के नेता करोड़ों खर्च कर वर्चुअल रैली कर रहे हैं।

उधर, गुरुवार को देर शाम से रात तक ट्विटर पर #CM_Tejashwi हैशटैग तेजी से ट्रेंड करता रहा। इस हैशटैग पर एक पक्ष जहां मुख्यमंत्री के रूप में तेजस्वी यादव का समर्थन कर रहा है, वहीं दूसरा पक्ष उनकी योग्यता पर सवाल उठाते हुए विरोध व व्यंग कर रहा है।

Next Story

विविध

Share it