Top
बिहार

VIDEO: बिहार पुलिस का शर्मनाक चेहरा, पिता से झोले में भरकर थाने मंगवाई बेटे की लाश

Janjwar Desk
7 March 2021 6:25 AM GMT
VIDEO: बिहार पुलिस का शर्मनाक चेहरा, पिता से झोले में भरकर थाने मंगवाई बेटे की लाश
x
भागलपुर के गोपालपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले लेरू यादव 26 फरवरी को अपने बेटे के साथ नाव से गंगा नदी पार कर रहे थे। इसी दौरान उनका 13 वर्षीय बेटा हरिओम यादव नाव से उतरने के चलते नदी में गिरकर बह गया था।

जनज्वार ब्यूरो/कटिहार। एक पिता ताउम्र इससे ज्यादा लाचार नहीं हो सकता। पिता के लिए पूरी जिंदगी इससे बुरा दिन नहीं हो सकता। उपर जो तस्वीर आपको दिख रही है, उसमे बिहार पुलिस के शर्मनाक चेहरे की दास्तान छुपी है। तस्वीर में दिख रहा शख्स लाचार पिता है। उसके हाथ में जो थैला है उसमे कोई सामान नहीं बल्कि उसके 13 वर्षीय बेटे की लाश रखी है। जिसे वो पुलिस के कहे अनुसार पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लेकर जा रहा है।

मानवता को भी रुलाकर शर्मशार कर देने वाली यह घटना बिहार के कटिहार जिले की है। दरसअल, भागलपुर के गोपालपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले लेरू यादव 26 फरवरी को अपने बेटे के साथ नाव से गंगा नदी पार कर रहे थे। इसी दौरान उनका 13 वर्षीय बेटा हरिओम यादव नाव से उतरने के चलते नदी में गिरकर बह गया था। इस मामले में पीड़ित पिता ने स्थानीय थाना में बच्चे के लापता होने की सूचना लिखवाई थी। जिसके बाद से उसकी तलाश जारी थी।

शुक्रवार 5 मार्च को कटिहार जिले के कुर्सेला थाना क्षेत्र के खोरिया घाट पर बच्चे की लाश बरमाद की गई। लाश मिलने की सूचना पाकर पिता मौके पर पहुंचा और शव के कपड़े को देखकर उसकी पहचान अपने बेटे के रूप में की। लाश पड़े रहने की वजह से उसे कुत्तों ने नोच डाला था।

पुलिस बोली शव लेकर थाने पहुंचो

घटना की सूचना पाकर कुर्सेला थाना पुलिस मौके पर पहुंची और पिता से कहा कि मामले की जांच होगी। शव का पोस्टमार्टम होगा। पुलिस ने पिता से कहा 'हम जाते हैं, तुम शव लेकर सदर अस्पताल पहुंचो।' ये कहकर पुलिस अपने वाहन पर बैठकर चलती बनी। लाचार पिता ने तमाम देर कोई साधन ढूंढा, नहीं मिला तो अपने बच्चे के क्षत-विक्षत शव को थैले में भरा और चल पड़ा। तीन किलोमीटर चलने के बाद जब रास्ते में उसे कुछ लोग मिले, तब पुलिस का असंवेदनशील चेहरा सामने आया।

आलाधिकारी झाड़ रहे हैं पल्ला

इस पूरे मामले को दूसरे थाने का मामला बता कर एसडीपीओ अमरकांत झा पल्ला झाड़ते दिखे। उन्होंने कहा खेरिया नदी के घाट से बच्चे की लाश बरमाद की गई है। 10 दिन पहले उसके लापता होने की शिकायत गोपालपुर थाने में दर्ज कराई गई थी। ऐसे में मामला उस थाने का है, इसलिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया है। झोले में लाश ले जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसकी जांच की जाएगी। ये मामला गोपालपुर थाने का है, फिर भी इसकी जांच की जाएगी। अगर कुर्सेला थाने के पुलिसकर्मियों द्वारा कोई गलती की गई होगी तो उनपर कार्रवाई होगी।

मामले में भले ही कोई कुछ ना बोले अथवा पल्ला झाड़े लेकिन बिहार पुलिस की ऐसी शर्मनाक करतूतें सामने आती ही रहती हैं। बावजूद इन सब के नीतीश कुमार और उनकी तिकडमी सरकार पर कोई खास फर्क नहीं पड़ता है।

Next Story

विविध

Share it