Top
बिहार

दुकान खोलने के लिए दिया जा रहा कम समय तो नहीं हो रही बिक्री, आक्रोशित हुए व्यवसायी

Janjwar Desk
22 Aug 2020 9:03 AM GMT
दुकान खोलने के लिए दिया जा रहा कम समय तो नहीं हो रही बिक्री, आक्रोशित हुए व्यवसायी
x

दूकान खोलने के लिए कम समय दिए जाने पर प्रदर्शन करते व्यवसायी

अनलॉक में भी कई जगहों पर दुकानों के टाइम-टेबल निर्धारित कर महज दो-चार घँटों तक ही दुकानें खोलने की अनुमति दी जा रही है, इसे लेकर व्यवसायी आक्रोशित हो जा रहे हैं...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। एक तो कोरोना को लेकर लंबे समय तक चले लॉकडाउन के कारण दुकानदारों और व्यवसायियों की कमर टूटी हुई है। ऊपर से अनलॉक में भी दुकानों के टाइम-टेबल निर्धारित कर कई जिलों में महज दो-चार घँटों तक ही दुकानें खोलने की अनुमति स्थानीय प्रशासन द्वारा दी जा रही है।

इसे लेकर व्यवसायी आक्रोशित हो जा रहे हैं। उनका कहना है कि एक तो बाजार में ग्राहक वैसे ही कम हैं, ऊपर से दो-चार घँटे बाद ही दूकान बंद कर दिए जाने के आदेश से बिक्री नहीं हो रही।

पिछले दिनों इसे लेकर सीवान सहित कई जिलों में व्यापारियों द्वारा विरोध किए जाने की खबरें आईं थीं। अब इसे लेकर पश्चिम चंपारण जिला के बगहा में व्यवसायियों ने प्रदर्शन किया है।

बगहा बाजार के दुकानदार चंदन कुमार ने कहा 'प्रशासन के द्वारा 4 घंटे का जो वक्त दिया गया है, 6:00 से 10:00 उसका कोई औचित्य नहीं। इतने कम समय में ग्राहक नहीं आ पा रहे और बिक्री नहीं हो रही। दूकान का खर्च निकालना भी मुश्किल हो गया है।' इसे लेकर व्यापारियों और दुकानदारों ने हंगामा खड़ा कर दिया।

दुकानदार मोहम्मद गुड्डू ने कहा 'व्यापारियों और दुकानदारों की मांग है कि समय अवधि सुबह 8 से शाम 6 बजे तक का होना चाहिए। जिसमें हम सभी अपने सामानों की बिक्री थोक और खुदरा कर सकें।'

व्यवसायी मनोज गुप्ता ने कहा 'अगर समय नहीं बढाया गया तो हम अपनी दुकानें पूर्णतया बंद भी कर सकते हैं।'

ऐसी ही बातें अन्य दुकानदारों ने भी कहीं। व्यवसायियों का कहना है कि हम 4 घंटे के समय में अपनी दुकानदारी को नहीं कर सकते है। उनका यह भी कहना है कि दूरदराज और ग्रामीण क्षेत्र से आए लोग कुछ भी खरीदारी नही कर पाएंगे।

सब्जी व्यापारी व दुकानदार, मीट व्यवसाई, मछली व्यवसाई चंदन कुमार, मेराज अहमद, मो. गुड्डू, मो. सिकंदर, मनोज गुप्ता, शिवजी, मो. मुन्ना, मो.अमीन, भोला राम, मजदूरों और पोलदार राजकुमार, दुर्गेश चौधरी, जगलाल आदि ने बाजार में प्रशासन के द्वारा लगाए गए नियमों का विरोध किया और समय अवधि बढ़ाने की मांग के लिए प्रशासन को लिखित आवेदन देने की बात कही।

Next Story

विविध

Share it