राष्ट्रीय

मिट्टी खेत में डालने से मना किया तो भाजपा नेता ने साथियों संग मिलकर युवक को पीट-पीटकर मार डाला

Janjwar Desk
24 July 2021 6:30 AM GMT
मिट्टी खेत में डालने से मना किया तो भाजपा नेता ने साथियों संग मिलकर युवक को पीट-पीटकर मार डाला
x

(धनंजय ने नाली की खुदाई से निकलने वाली मिट्टी को अपने खेत में डालने से मना किया तो विवाद हो गया)

मनरेगा के तहत नाली की सफाई का काम कराया जा रहा था। यह सफाई का कार्य ग्राम प्रधान राम बहादुर का प्रतिनिधि और भाजपा का नवागंज क्षेत्र प्रभारी दीपू सिंह करा रहा था....

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में भाजपा ने अपने साथियों के साथ मिलकर एक युवक को पीट-पीटकर इसलिए मार डाला क्योंकि उसने खेत में मिट्टी खेत में डालने से मना कर दिया था। भाजपा नेता समेत पांच हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

खबरों के मुताबिक ये मामला रायबरेली के जगतपुर के बिछियावादी मजरे दौलतपुर गांव का है। जहां मनरेगा के तहत नाली की सफाई का काम कराया जा रहा था। यह सफाई का कार्य ग्राम प्रधान राम बहादुर का प्रतिनिधि और भाजपा का नवागंज क्षेत्र प्रभारी दीपू सिंह करा रहा था।

बुधवार 21 जुलाई को गांव निवासी 28 वर्षीय धनंजय पुत्र राघवेंद्र खेत गया था। उसने नाली की खुदाई से निकलने वाली मिट्टी को अपने खेत में डालने से मना किया तो विवाद हो गया। इसके बाद भाजपा नेता अपने साथियों के साथ लाठी-डंडों के साथ पहुंच गए और धनंजय को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। इस दौरान धनंजय के सिर पर गंभीर चोटें आ गयीं। इसकी जानकारी जैसे ही धनंजय के परिवार वालों को मिली तो वह मौके पर पहुंचे। तब तक हमलावर फरार हो गए थे।

इसके बाद धनंजय को जगतपुर के जिला अस्पताल सीएचसी में ले जाया गया। लेकिन डॉक्टरों ने हालत को गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ ट्रॉमा सेंटर के लिए रेफर कर दिया। ट्रॉमा सेंटर में बुधवार की देर रात धनंजय की मौत हो गयी। धनंजय की नवंबर 2020 में ही शादी हुई थी। पत्नी का घर में रो-रोकर बुरा हाल है।

जगतपुर कोतवाल अजीत कुमार विद्यार्थी ने बताया कि धनंजय के बड़े भाई रणविजय की तहरीर पर गांव निवासी भाजपा नेता दीपू सिंह के अलावा सत्यम सिंह, अजय, अनुज, अवधेश के खिलाफ मारपीट का मुकदमा पंजीकृत किया गया है। युवक की मौत के बाद इन सभी के खिलाफ हत्या का मुकदमा तरमीम किया गया है।

वहीं इस घटना के बाद गुस्साए ग्रामीण रायबरेली-प्रयागराज राजमार्ग को जाम करने पहुंचे तो सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। गांव के लोग कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। इसके बाद सीओ अशोक सिंह और गदागंज थानेदार अमरनाथ ने जब मृतक के चाचा को आरोपियों को गिरफ्तार करने का भरोसा दिया तब जाकर लोगों का गुस्सा शांत हो सका।

ग्रामीणों के मुताबिक भाजपा नेता दीपू सिंह गांव में मनमाने तरीके से काम कराता है और विरोद करने पर मारपीट पर उतारू हो जाता है। दीपू सिंह की पत्नी ने जगतपुर सीट से भाजपा उम्मीदवार के दौर पर जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ा था लेकिन वह हार गई थी।

वहीं एसपी श्लोक कुमार ने कहा कि युवक की हत्या के मामले में एफआईआर दर्ज करा दी गई है। नामजदों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगाई गई हैं। जल्द हमलावरों को पकड़कर जेल भेजा जाएगा। पीड़ित परिवार को इंसाफ दिलाया जाएगा।

Next Story

विविध

Share it