Top
राष्ट्रीय

भाजपा सांसद ने कहा, 80 हजार बीएसएनल कर्मचारी कामचोर और गद्दार, उन्हें नौकरी से निकालो तत्काल

Janjwar Desk
12 Aug 2020 6:51 AM GMT
भाजपा सांसद ने कहा, 80 हजार बीएसएनल कर्मचारी कामचोर और गद्दार, उन्हें नौकरी से निकालो तत्काल
x

File photo

विवादास्पद बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले कर्नाटक के बीजेपी सांसद अनन्त कुमार हेगड़े ने अब BSNL के कर्मचारियों को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है...

जनज्वार। अक्सर अपने विवादित बयानों (Controversial Statements) को लेकर सुर्खियों में रहने वाले कर्नाटक के भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े (BJP M.P Anant Kumar Hegde) ने अब सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) के अधिकारियों को 'गद्दार' बता दिया है, जो 'काम करने के लिए तैयार नहीं' (Not Prepared to Work) हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इसके 85 हजार कर्मचारियों को निकाल दिया जाएगा, क्योंकि ये 'कामचोर' हैं और अब BSNL का निजीकरण ही एकमात्र विकल्प है।

उनके भाषण का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हेगड़े ने सोमवार को उत्तर कन्नड़ जिले (North Kannada District) के कुमता में एक जनसभा में यह बयान दिया था। वायरल हुए एक वीडियो में हेगड़े ने दावा किया कि बीएसएनएल में बहुत अधिक आलस्य है और 85,000 कर्मचारियों को हटाने का फैसला किया गया क्योंकि विनिवेश ही इसे ठीक करने का एकमात्र तरीका है।

हेगड़े Skill Development विभाग के केंद्रीय राज्यमंत्री भी रह चुके हैं। बीजेपी सांसद ने कहा, 'यह (BSNL) एक ऐसी व्यवस्था है, जो गद्दारों से भरी है, लोग जानते हैं कि बीएसएनएल नेटवर्क कैसा है। यह उत्तर कन्नड़ में अभी भी बेहतर है लेकिन बेंगलुरु में आपको नेटवर्क बिल्कुल नहीं मिलेगा। पूरा बीएसएनएल देश के लिए कलंक है।'

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने अपनी स्मृति को ताजा करते हुए कहा कि उन्होंने उत्तर कन्नड़ जिले के करवर में हाल ही में बैठक के दौरान बीएसएनएल के अधिकारियों को डांटा था। उन्होंने कहा कि उन्होंने उनसे (अधिकारियों) कहा था, 'आप सिर्फ सरकारी अधिकारी ही नहीं, राष्ट्र विरोधी भी हैं। उन्होंने आगे कहा 'सरकार ने आपको धनराशि दी है। लोगों की जरूरत है। बुनियादी ढांचा तैयार है लेकिन वे काम करने के लिए तैयार नहीं हैं। किसी भी चीज की कमी नहीं है। प्रधानमंत्री डिजिटल इंडिया की बात करते हैं, हम बुनियादी ढांचा, प्रौद्योगिकी और धन उपलब्ध कराने के लिए तैयार हैं, लेकिन वे काम करने के लिए तैयार नहीं हैं। वहां बहुत आलस्य है।'

वायरल वीडियो में कहते हुए सुना जा रहा है, 'पूरे देश में में 85,000 कर्मचारियों को हटाने का फैसला किया गया है। कुछ और हटाने की आवश्यकता हो सकती है। जो भी जरूरत होगी, हम करेंगे। हम बीएसएनएल को सही करने के लिए बड़ी सर्जरी करेंगे और उसका निजीकरण करेंगे। दूसरा कोई विकल्प नहीं है।' हेगड़े उत्तर कन्नड़ से छह बार लोकसभा सदस्य रह चुके हैं। हेगड़े ने इस साल फरवरी में महात्मा गांधी के नेतृत्व वाले स्वतंत्रता संग्राम को लेकर एक विवादित बयान दिया था। कांग्रेस ने बयान की निंदा की थी और भाजपा ने उनसे माफी मांगने के लिए कहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हेगड़े ने यह बयान 10 अगस्‍त को उत्‍तर कन्‍नड़ा संसदीय क्षेत्र स्थित कुमता में आयोजित एक कार्यक्रम में दिया। वैसे हेगड़े का विवादों से पुराना नाता रहा है। हाल ही में उन्होंने महात्मा गांधी के को लेकर भी एक विवादित बयान दिया था। उन्होंने महात्मा गांधी के स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन को 'ड्रामा' बता दिया था, हालांकि विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने कहा था कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया गया और उन्होंने माफी भी मांगी थी।

Next Story

विविध

Share it