राष्ट्रीय

अयोध्या श्रीराम मंदिर घोटाले में चंपत राय और अंसारी का सामने आया बयान, बोले पारदर्शी है मामला

Janjwar Desk
15 Jun 2021 1:52 PM GMT
अयोध्या श्रीराम मंदिर घोटाले में चंपत राय और अंसारी का सामने आया बयान, बोले पारदर्शी है मामला
x
सुल्तान अंसारी का जो बयान 'जनज्वार' के पास आया है उसके मुताबिक अयोध्या में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जो जमीन खरीदी है, उसमे समाजवादी पार्टी और आप आदमी पार्टी के नेता ने जो आरोप लगाया वह सभी आरोप गलत लगाए गए हैं....

जनज्वार/अयोध्या। यूपी के अयोध्या में बन रहे राममंदिर ट्रस्ट की तरफ से क्रय की गई भूमि पर लगाये गये तमाम आरोपों का श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने खंडन किया है। आपको बता दें कि श्रीराम मंदिर द्वारा खरीदी गई जमीन को तमाम विपक्षी पार्टियों ने घोटाला किया जाना बताया था। आरोप था कि 2 करोड़ की जमीन 5 से 10 मिनट में साढ़े 18 करोड़ की खरीदी गई है।

सभी आरोपों को निराधार बताते हुए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने जारी एक वक्तव्य में कहा है कि राममंदिर को वास्तुशास्त्र के अनुसार भव्यता प्रदान करने के लिये ट्रस्ट लगातार काम कर रहा है, जिससे निर्माण कार्य को पूरी पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराया जा सके। इसके साथ उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह किसी भी प्रकार के दुष्प्रचार पर विश्वास न करें।

चंपत राय ने लोगों को भरोसा दिलाया है कि राममंदिर का निर्माण संबंधित सभी पारदर्शिता के साथ संपन्न कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मंदिर के पूर्व व पश्चिम भाग में निर्माणाधीन परकोटा व रिटेनिंग वाल की सीमा में आने वाले महत्वपूर्ण मंदिरों व स्थानों को सहमति के साथ क्रय किया जा रहा है, इसी के तहत बाग बगयेश्वर स्थित भूमि को परस्पर सहमति व पारदर्शिता के साथ क्रय की गई है, जो बाजार मूल्य से बहुत कम है।

ट्रस्ट के महासचिव ने बताया कि ट्रस्ट का पहले दिन से ही निर्णय रहा है कि सभी भुगतान बैंक से सीधे खाते में ही किये जायेंगे संबंधित भूमि की क्रय प्रक्रिया में भी इसी निर्णय का पालन हुआ है, इसके साथ ही उन्होंने यह भी सुनिश्चित किया है कि सरकार की ओर से लगाये गये सभी कर आदि का भुगतान हो जाये। जमीन खरीद फरोख्त में आरोप और प्रत्यारोप के बीच ट्रस्ट की सफाई और अपील।

वहीं सुल्तान अंसारी का जो बयान 'जनज्वार' के पास आया है उसके मुताबिक अयोध्या में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जो जमीन खरीदी है, उसमे समाजवादी पार्टी और आप आदमी पार्टी के नेता ने जो आरोप लगाया वह सभी आरोप गलत लगाए गए हैं।

अंसारी के मुताबिक जो आरोप लगे हैं की 5 से 10 मिनट में जमीन को मंहगे रेट में बेच दिया। 2 करोड़ की जमीन 18 करोड़ की जमीन इतनी जल्दी जमीन का रेट बढ़ ही नही सकता है। भगवान श्री राम में हमारी भी आस्था है। जिससे हमने 50 करोड़ की जमीन को 18 करोड़ 50 लाख में जमीन को बेच दिया। 2011 से 2021 तक उस रेट में खरीदा था, तब राम जन्मभूमि का फैसला नहीं आया था। फैसले के बाद अयोध्या में जमीन का रेट मंहगा हो गया।

Next Story

विविध

Share it