राष्ट्रीय

Chhattisgarh News : कोरोना वॉरियर की सड़क हादसे में मौत, गणतंत्र दिवस समारोह में मिला था अवॉर्ड

Janjwar Desk
26 Jan 2022 4:17 PM GMT
Chhattisgarh News : कोरोना वॉरियर की सड़क हादसे में मौत, गणतंत्र दिवस समारोह में मिला था अवॉर्ड
x

कोरोना वॉरियर की सड़क हादसे में मौत

Chhattisgarh News : छत्तीसगढ़ में गणतंत्र दिवस समारोह में आज एक स्वास्थ्यकर्मी को कोरोना वॉरियर के तौर पर सम्मानित किया गया था लेकिन आज उस स्वास्थ्यकर्मी की सड़क हादसे में मौत हो गई...

Chhattisgarh News : छत्तीसगढ़ में गणतंत्र दिवस समारोह में आज एक स्वास्थ्यकर्मी को कोरोना वॉरियर के तौर पर सम्मानित किया गया था लेकिन आज उस स्वास्थ्यकर्मी की सड़क हादसे में मौत हो गई। बता दें कि ये हादसा कोंडागांव में हुआ था। स्वास्थ्यकर्मी का नाम पेमेश्वरी साहू था| पेमेश्वरी साहू आज दोपहर के वक्त गणतंत्र दिवस कार्यक्रम से लौट रही थी। इस दौरान सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई|

पेमेश्वरी साहू को ट्रक ने कुचला

बता दें कि स्वास्थ्यकर्मी पेमेश्वरी साहू गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम से लौट रही थी| लौटते समय सड़क पर एक कार को ओवरटेक करते हुए पीछे से आ रहे ट्रक ने पेमेश्वरी साहू को कुचल दिया। इस हादसे में पेमेश्वरी साहू की स्कूटी सड़क पर दूर जाकर गिरी। ट्रक ने पेमेश्वरी साहू के सिर और शरीर का ऊपरी हिस्सा बेरहमी से रौंद दिया। इस हादसे में पेमेश्वरी की खून के छींटे सड़क पर दूर-दूर तक थीं। इस हादसे से के बाद पुलिस घटना स्थल पहुंची और सड़क से इस स्वास्थ्यकर्मी के शव को हटाया गया। बताया जा रहा है कि दो साल पहले ही पेमेश्वरी साहू की केशकाल के टाटीरास में शादी हुई थी। पिछले साल स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतर काम करने की वजह से दिल्ली में भी उसे सम्मानित किया गया था।

कलेक्टर ने व्यक्त किया दुःख

बता दें कि पेमेश्वरी साहू खल्लारी हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर की सीएचओ थी| पेमेश्वरी कांकेर जिले के ग्राम परसोदा की निवासी थी। बता दें कि पेमेश्वरी साहू के सड़क हादसे में निधन पर कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा दुःख व्यक्त किया है। सेना के जवान इंद्रपाल साहू से पेमेश्वरी साहू की शादी हुई थी। पेमेश्वरी साहू अपनी शादी के बाद कोण्डागांव जिले के केशकाल विकासखण्ड के गारका टाटीरास में रह रही थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पेमेश्वरी साहू साल 2019 से ही बड़ेराजपुर विकासखण्ड स्थित हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर खल्लारी में सीएचओ के रूप में काम कर रही थी। पेमेश्वरी साहू को राष्ट्रीय स्तर पर सार्वभौमिक स्वास्थ्य दिवस के मौके पर 13 दिसंबर को नई दिल्ली में पेमेश्वरी को केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सम्मानित किया था।

छत्तीसगढ़ में कोरोना टीकाकरण

बता दें कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए छत्तीसगढ़ में 18 वर्ष से अधिक की 70 प्रतिशत आबादी को दोनों टीके लगाए जा चुके हैं। आकड़ों के अनुसार छत्तीसगढ़ में 24 जनवरी तक 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के एक करोड़ 37 लाख 16 हजार 317 लोगों को टीके की दोनों खुराक दी जा चुकी है। राज्य में 18 वर्ष से अधिक के 99 प्रतिशत और 15 से 18 वर्ष की 57 प्रतिशत जनसंख्या को पहला टीका लग चुका है। साथ ही यहां 18 वर्ष से अधिक के एक करोड़ 94 लाख 50 हजार 785 नागरिकों और 15 से 18 वर्ष के नौ लाख 34 हजार 216 किशोरों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगाया जा चुका है।

कोरोना के मामले

बता दें कि पिछले 24 घंटों में छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस से और 4,914 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि की गई है। इसके साथ ही राज्य में बीते मंगलवार 25 जनवरी तक कोरोना की चपेट में आने वाले मरीजों की कुल संख्या बढ़कर अब 11,05,132 हो गई है। वहीं 216 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है, इसके साथ ही राज्य के 5495 लोगों ने होम आइसोलेशन की अवधि पूरी की। बता दें कि राज्य में मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 23 मरीजों की मौत भी हुई है।

Next Story

विविध