राष्ट्रीय

HP Chunav 2022 : चुनाव प्रचार समाप्त होने से पहले शाह ने कर दिया जयराम ठाकुर का पत्ता साफ, जानें और क्या कहा

Janjwar Desk
11 Nov 2022 2:30 AM GMT
अमित शाह चाहते हुए अपने गृह नगर की इस सीट पर नहीं दिला पा रहे भाजपा को जीत, एक बार फिर दांव पर है उनकी प्रतिष्ठा
x

अमित शाह चाहते हुए अपने गृह नगर की इस सीट पर नहीं दिला पा रहे भाजपा को जीत, एक बार फिर दांव पर है उनकी प्रतिष्ठा

HP Chunav 2022 : अमित शाह ने पांवटा साहिब और सुलह में एक पब्ल्कि रैली को संबोधित करते हुए प्रदेश की जनता से कहा कि आप 12 नवंबर को जयराम ठाकुर के लिए नहीं बल्कि हिमाचल को देश का नंबर एक राज्य बनाने के लिए वोट करें।

HP Chunav 2022 : हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कल यानि 12 नवंबर को 55 लाख से ज्यादा मतदाता नई सरकार के गठन के वोटिंग करेंगे। दूसरी तरफ मतदान शुरू होने से दो दिन पहले भाजपा ( BJP ) के चाणक्य अमित शाह ( Amit shah ) ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए भाजपा ( BJP ) के अंदर ही तहलका मचा दिया। केंद्रीय गृह मंत्री ने 10 नवंबर को प्रचार के आखिरी दिन पांवटा साहिब (Paonta Sahib) और सुलह (Sullah) में पब्लिक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही हिमाचल की जनता ये भी कहा कि आप यह सोचकर वोट न डालें कि जयराम ठाकुर (Jai Ram Thakur) को मुख्यमंत्री बनाना है, बल्कि यह सोचकर मत का प्रयोग करें कि हिमाचल (Himachal Pradesh) को देश का नंबर एक राज्य बनाना है।

और क्या कहा अमित शाह ने

हिमाचल ( Himachal Pradesh Assembly Election ) के पांवटा साहिब की चुनावी रैली में गृह मंत्री अमित शाह ( Amit shah ) ने जनता से अपील करते हुए कहा कि 12 तारीख को आपको सुखराम जी को विधायक बनाने के लिए वोट नहीं डालना है, जयराम जी को मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट नहीं डालना है। जब आप कमल के निशान पर बटन दबाएं तो हिमाचल की बेहतरी के लिए वोट डालें। आपको ये मानकर चलना है कि आपका ये वोट हिमाचल को समग्र देश में नंबर एक का राज्य बनाने के लिए गया था। आपका एक वोट तय करेगा कि अगले पांच साल तक हिमाचल प्रदेश पर किस पार्टी की, किस व्यक्ति की सरकार बनेगी।

अमित शाह ( Amit shah ) के इस बयान के बाद से हिमाचल भाजपा के अंदर ही भूचाल लाने का काम कर दिया है, वो भी मतदान से ठीक पहले। उनके इस बयान के अब अलग—अलग अर्थ निकाले जा रहे हैं। कांग्रेस उनके इस बयान का लाभ उठा सकती है। ऐसा इसलिए कि शाह ने जयराम ठाकुर और सुखराम परिवार को पहले ही सीएम की रेस से बाहर कर दिया है। उनके इस बयान से साफ है कि जब शाह को ही जयराम ठाकुर पर भरोसा नहीं है तो वहां की जनता क्या उन पर विश्वास करेगी। यानि हिमाचल में भाजपा सत्ता से बाहर जा रही है इस बात का अहसास अमित शाह को भी हो गया है।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि हिमचाल प्रदेश में दो पार्टियों के बीच में मुकाबला है। एक ओर कांग्रेस पार्टी है जो अभी तक परिवारवाद से बाज नहीं आई। कांग्रेस पार्टी लोकतांत्रिक पार्टी नहीं है, ये परिवारवाद से जन्मी हुई पार्टी है। मैं आप, सब एक सामान्य वर्ग में जन्मे हुए लोग हैं। कांग्रेस पार्टी में अगर शान चाहिए तो राजा-रानी के घर पर जन्म लेना पड़ता है। शाह ने कहा कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, वह कहती है कि हिमाचल में एक बार BJP और एक बार कांग्रेस आती है, लेकिन वो जमाना गया। मणिपुर, असम, यूपी, उत्तराखंड में दोबारा BJP की सरकार बनी। अब गुजरात में छठी बार और हिमाचल में भी बार-बार BJP की सरकार बनेगी।

HP Chunav 2022 : बता दें कि हिमाचल प्रदेश की सभी 68 विधानसभा सीटों के लिए 12 नवंबर को मतदान किया जाएगा और नतीजे 8 दिसंबर को जारी किए जाएंगे। राज्य में पिछले करीब साढ़े तीन दशक से कोई सरकार लगातार रिपीट नहीं हुई है। भाजपा को उम्मीद है कि राज्य में कमल खिलेगा।

Next Story

विविध