Top
राष्ट्रीय

पीएम केयर फंड में चीन से 9678 करोड़ रुपये आया, कांग्रेस का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप

Janjwar Desk
28 Jun 2020 12:16 PM GMT
पीएम केयर फंड में चीन से 9678 करोड़ रुपये आया, कांग्रेस का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप
x
प्रधानमंत्री ने आज मन की बात कार्यक्रम में बिना चीन का नाम लिए कहा कि लद्दाख में उन्हें करारा जवाब दिया गया है। इसके बाद कांग्रेस ने उन पर सिलसिलेवार हमले किए हैं...

जनज्वार, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा आज रेडियो पर मन की बात कार्यक्रम को संबोधित किए जाने के बाद कांग्र्रेस सिलसिलेवार ढंग से उन पर हमला बोल रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में कई गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस पार्टी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कई ट्वीट कर जहां मोदी सरकार पर सवाल उठा रही है, वहीं कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पूछा है प्रधानमंत्री ने 33 मिनट के मन की बात में एक बार भी चीन शब्द नहीं कहा, पीएम को चीन से इतना खौफ क्योें।

अभिषेक मनु सिंघवी ने वर्चुअल प्रेस कान्फ्रेंस में कहा प्रधानमंत्री ने अबतक चीन का नाम तक नहीं लिया है। वे सिर्फ इतना कह दें कि चीन ने घातक हमला किया है, चीन हमारे क्षेत्र में आया था, है, चीन ने ये निर्माण किया है।

सिंघवी ने कहा है कि चीन से मोदी के जितने संपर्क शायद किसी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नहीं रहे। चार बार मुख्यमंत्री रहते हुए, पांच बार प्रधानमंत्री रहते हुए चीन का दौरा या आदान-प्रदान सब जानते हैं। छह साल में मोदी ने चीन के साथ 18 बैठकें की हैं।

कांग्रेस ने कहा है कि पिछले 10-12 साल में चीन से जितना संपर्क भाजपा के अध्यक्षों का रहा है, उतना देश की किसी भी पार्टी का नहीं रहा। सिंघवी ने कहा कि 2008 में राजनाथ सिंह की सीसीपी से भेंट, 2009 में आरएसएस की भेंट, 2011 में गडकरी की अध्यक्ष की हैसियत से चीन की यात्रा, 2014 में अमित शाह द्वारा सांसदों का दल चीन भेजना, इतनी यात्राएं किसी पार्टी ने नहीं की।

कांग्रेस नेता ने कहा कि कोविद19 के नाम पर एक नया फंड बना - पीएम केयर फंड, ये कैग व आरटीआइ के दायरे में नहीं है। कोई पारदर्शिता नहीं है। कोई जवाबदेही नहीं है। उसमें 9678 करोड़ रुपये का फंड चीन से आया है।

कांग्रेस ने कहा है कि जब हमारे सैनिक सीमा पर शहीद हो रहे थे तब सरकार पीएम केयर फंड में चीनी कंपनियों से चंदा लेने में व्यस्त थी। कांग्रेस ने यह भी कहा है कि राजीव गांधी फाउंडेशन ने चीन से आए चंदा का ब्यौरा घोषित किया, क्या भाजपा-आरएसएस ऐसा करेंगे।

Next Story
Share it