राष्ट्रीय

भारत में कोरोना से मौतें कुछ हफ्तों में हो जायेंगी दुगुनी, स्टडी ने जताया अंदेशा

Janjwar Desk
5 May 2021 4:05 PM GMT
भारत में कोरोना से मौतें कुछ हफ्तों में हो जायेंगी दुगुनी, स्टडी ने जताया अंदेशा
x
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस के अलावा वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी की हेल्थ मैट्रिक्स एंड इवेल्यूएशन इंस्टीट्यूट ने भी अपने विश्लेषण के आधार दावा किया है कि जुलाई के आखिर तक भारत में कोविड से 10 लाख 18 हजार 879 मरीजों की जान जा सकती है...

जनज्वार। भारत में कोरोना की भयावहता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। अस्पतालों के बाद श्मशान घाटों पर लगती लंबी लाइनें और ज्यादा बढ़ रही हैं। श्मशान घाटों पर टोकन के साथ लाशें जलायी जा रही हैं। इन भयावह हालातों में अब एक और स्टडी सामने आयी है, जिसमें कहा गया है कि आने वाले दिनों में भारत में और ज्यादा हालात बिगड़ेंगे, मौतों की संख्या दुगुनी हो जायेगी।

बेंगलुरु के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस की एक टीम ने कोरोना के मौजूदा आंकड़ों का अपने गणितीय मॉडल के जरिए विश्लेषण ​करके यह अंदेशा जाहिर किया है कि आने वाले दिनों में भारत में कोविड से होने वाली मौतों की संख्या बढ़ेगी। यह अभी के मुकाबले दोगुनी तक हो सकती है। इस टीम के मुताबिक अगर कोरोना की चाल यूं ही बरकरार रहती है तो 11 जून तक भारत में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 4 लाख 4 हजार तक हो जाएगी।

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस के अलावा वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी की हेल्थ मैट्रिक्स एंड इवेल्यूएशन इंस्टीट्यूट ने भी अपने विश्लेषण के आधार दावा किया है कि जुलाई के आखिर तक भारत में कोविड से 10 लाख 18 हजार 879 मरीजों की जान जा सकती है। अभी भी समाज में जिस तरह की लापरवाहियां सामने आ रही हैं, उससे इस आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता। कोरोना के भयावह हालातों में सोशल डिस्टेंसिंग और टेस्टिंग का दायरा बढ़ाकर इस खतरे को कुछ हद तक कम किया जा सकता है, मगर जिस तादाद में बिना इलाजा और ऑक्सीजन की कमी से कोरोना मरीजों की मौत की खबरें सामने आ रही हैं, वह और ज्यादा डराती हैं।

ब्राउन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के डीन आशीष झा का कहना है कि अगले चार से छह सप्ताह भारत के लिए बहुत कठिन होने जा रहे हैं। ऐसे में बड़ी चुनौती है कि कोशिश करनी चाहिए जो मुश्किल हालात अभी हैं, वह और ज्यादा बदतर न बनें। इसके लिए जरूरी है कि जल्द से जल्द ठोस कदम उठाने चाहिए। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार 2 मई को कहा गया था कि किसी भी नतीजे पर जल्दी नहीं पहुंचा जा सकता है।

हमारे देश में एक दिन में कोविड-19 से रिकॉर्ड 3,780 मौतों के बाद इस बीमारी से जान गंवाने वालों का सरकारी आंकड़ा 2 लाख 26 हजार 188 हो गई है, हालांकि यह आंकड़ा कहीं ज्यादा है। एक्सपर्ट्स के दावों के मुताबिक सरकारी आंकड़ों से कई गुना कोरोना मौतों हर रोज हो रही हैं।

पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,82,315 नये मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आज 5 मई को बताया कि इन नये मामलों के बाद कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 2,06,65,148 हो गए हैं। लगातार बढ़ते मामलों के बाद देश में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 34,87,229 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.87 प्रतिशत है।

Next Story
Share it